Dr. Suvina Attavar, MBBS, DVD
Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

आखिर कौन नहीं चाहता कि उसकी त्वचा खूबसूरत और मुलायम हो। इसमें कोई शक नहीं कि आपकी बेदाग और कोमल त्वचा खूबसूरती में चार चांद लगा देती है। इसके लिए महिलाएं कई तरीके अपनाती हैं। इन्हीं में से एक है ग्लिसरीन और गुलाब जल का मिश्रण। यूं तो गुलाब जल त्वचा के लिए काफी फायदेमंद, लेकिन ग्लिसरीन के साथ मिलकर इसके फायदे बढ़ जाते हैं।

यह मिश्रण न सिर्फ त्वचा को कोमल और बेदाग बनाता है, बल्कि उसे हाइड्रेट भी रखता है। यही कारण है कि लोगों ने ग्लिसरीन और गुलाब जल के फायदों को जानने के बाद त्वचा को निखारने के लिए इसका इस्तेमाल शुरू कर दिया। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम ग्लिसरीन और गुलाब जल के फायदे के बारे में जानेंगे। इसके अलावा, जानेंगे कि ग्लिसरीन और गुलाब जल का उपयोग कैसे किया जाता है।

ग्लिसरीन और गुलाब जल के फायदे – Benefits Of Glycerin And Rose Water In Hindi

जब आप ग्लिसरीन और गुलाब जल का उपयोग अपने चेहरे और त्वचा पर करते हैं, तो इसके कई फायदे होते हैं। नीचे हम ग्लिसरीन और गुलाब जल के फायदे बता रहे हैं।

  1. त्वचा को मॉइस्चराइजर करे : जैसा कि हमने पहले भी बताया कि ग्लिसरीन और गुलाब जल में मॉइस्चराइजर गुण होते हैं, जो रूखी त्वचा से राहत दिलाते है (1)। जब आप ग्लिसरीन को गुलाब जल के साथ इस्तेमाल करते हैं, तो इससे दोगुना मॉइस्चर मिलता है, जिससे आपकी त्वचा हाइड्रेट और मुलायम रहती है।
  1. स्कीन कंडीशनर का काम करे : ग्लिसरीन रूखी त्वचा के लिए फायदेमंद होती है, इसलिए यह एक्जिमा और डर्माटाइटिस जैसे त्वचा रोग से राहत दिलाती है। यह जलन और सूजन से त्वचा को राहत दिलाने में मदद करती है। ग्लिसरीन और गुलाब जल का मिश्रण तैलीय त्वचा के लिए प्रभावी होता है। यह मिश्रण कील-मुंहासे और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं से बचाता है। गुलाब जल में एंटीसेप्टिक और एस्ट्रिंजेंट गुण भी होते हैं (2), जो दाग धब्बों से राहत दिलाते हैं।
  1. पीएच स्तर को संतुलित करे : स्वस्थ त्वचा के लिए पीएच स्तर का संतुलित रहना जरूरी है (3)। जब आपकी त्वचा का पीएच स्तर संतुलित रहता है, तो एक्जिमा जैसी त्वचा संबंधी समस्याएं नहीं हो सकती हैं। ग्लिसरीन और गुलाब जल दोनों ही आपकी त्वचा के पीएच को संतुलित रखने में मदद कर सकते हैं और दाग-धब्बों को दूर कर त्वचा को चमकदार बना सकते हैं।
  1. त्वचा को जवां बनाए : अगर आप ग्लिसरीन और गुलाब जल का इस्तेमाल करती हैं, तो इसके बाद किसी एंटी-एजिंग प्रोडक्ट की जरूरत नहीं पड़ेगी। एजिंग को दूर रखने में यह काफी प्रभावी है। ग्लिसरीन और गुलाब जल से आपकी त्वचा मुलायम और मॉइस्चराइज रहेगी और इसे पोषण भी मिलेगा। इससे त्वचा जवां बनी रहेगी और दिन-ब-दिन निखरती चली जाएगी।

ग्लिसरीन और गुलाब जल का उपयोग कैसे करें – How To Use Glycerin And Rose Water In Hindi

ग्लिसरीन और गुलाब जल के कई फायदे होते हैं। खास बात यह है कि इसे आप घर में ही आसानी से बना सकती हैं।

  1. स्किन मॉइस्चराइजर : सर्दियों के समय त्वचा काफी रूखी और बेजान हो जाती है। ऐसे में आपको घर में बने मॉइस्चराइजर की जरूरत पड़ती है। आप ग्लिसरीन और गुलाब जल को मिलाकर चेहरे पर लगाएंगे, तो यह काफी प्रभावी होगा। आप इसे अपने चेहरे के साथ-साथ पूरे शरीर पर लगा सकती हैं।
  1. स्किन टोनर : आप बेदाग त्वचा के लिए ग्लिसरीन और गुलाब जल को टोनर के रूप में भी इस्तेमाल कर सकती हैं। यह आपकी त्वचा का पीएच स्तर संतुलित करने में भी मदद करता है। इसे स्किन टोनर के रूप में इस्तेमाल करने से आपकी त्वचा चमकदार बनेगी और पोषण भी मिलेगा।
  1. स्किन क्लींजर : प्राकृतिक चीजों से घर में बना क्लींजर त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने का बेहतरीन तरीका है। आप ग्लिसरीन और गुलाब जल का क्लींजर खुद घर में ही बना सकते हैं। यह प्रभावी रूप से मेकअप, गंदगी और अन्य अशुद्धियों को दूर करके आपकी त्वचा को साफ करने में मदद कर सकता है।

ग्लिसरीन को इस्तेमाल करने से पहले उसे हमेशा पतला कर लें। इसे पतला करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप इसमें गुलाब जल मिला दें, ताकि आपको दोनों का लाभ मिल सके।

एक बात का ध्यान रहे कि ग्लिसरीन का ज्यादा इस्तेमाल न करें। अगर आप इसे ज्यादा देर तक लगाएंगी, तो ऐसा लगेगा कि आपने चेहरे को काफी देर तक पानी से साफ किया है। इसलिए, इसे अपने चेहरे पर ज्यादा देर के लिए न लगाकर रखें।

चूंकि, ग्लिसरीन काफी चिपचिपी होती है, इसलिए इसे किसी अन्य चिपचिपे लोशन या क्रीम के साथ न लगाएं। चिपचिपेपन को दूर करने के लिए त्वचा से अतिरिक्त ग्लिसरीन हटा लें, क्योंकि इससे त्वचा पर और गंदगी जमा हो सकती है।

एक ग्लिसरीन की बोतल लें और 200 मि.ली. से 250 मि.ली. ग्लिसरीन एक बाउल में निकाल लें। इसमें 100 मि.ली. गुलाब जल डालकर मिलाएं। ज्यादा फायदे के लिए इसमें दो चम्मच नींबू का रस मिलाएं। रूखी त्वचा से राहत पाने के लिए और त्वचा को हाइड्रेट रखने के लिए रोजाना रात को अपने चेहरे पर यह मिश्रण लगाएं।

वहीं, घर में टोनर बनाने के लिए ¼ कप ग्लिसरीन और 1 ½ गुलाब जल लें। इन्हें अच्छी तरह मिलाकर एक स्प्रे वाली बोतल में डाल लें। आप इस टोनर को किसी भी समय इस्तेमाल कर सकते हैं। इसे बस आप अपने चेहरे पर स्प्रे करें।

स्किन क्लींजर को बनाने के लिए आप ग्लिसरीन और गुलाब जल को मिलाएं और इसमें रूई डालें। अब इस क्लींजर को चेहरे से मेकअप व धूल-मिट्टी हटाने के लिए इस्तेमाल करें। खूबसूरत त्वचा पाने के लिए इसे रोजाना रात को लगाएं।

काम की बात :

हमेशा ग्लिसरीन और गुलाब जल को अपने अन्य स्किन प्रोडक्ट्स के साथ लगाएं। रोजाना इसे त्वचा पर लगाने से आप अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज और कोमल बना पाएंगी। एक स्वस्थ त्वचा पाने के लिए ग्लिसरीन और गुलाब जल से बेहतर कुछ नहीं है।

हम उम्मीद करते हैं कि ग्लिसरीन और गुलाब जल के फायदे आप अच्छी तरह समझ गए होंगे। तो देर किस बात की? अगर आप भी अपनी त्वचा को कोमल, बेदाग और खूबसूरत बनाना चाहती हैं, तो इस तरीके को जरूर अपनाएं। इसके बाद अपने अनुभव नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में शेयर करना न भूलें।

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. The influence of a cream containing 20% glycerin and its vehicle on skin barrier properties
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/18498456/
  2. Antioxidant and potential anti-inflammatory activity of extracts and formulations of white tea, rose, and witch hazel on primary human dermal fibroblast cells
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3214789/
  3. The skin microbiome
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3535073/
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Dr. Suvina Attavar
Dr. Suvina Attavar - I have a thirst for learning and a passion for Dermatology, Cosmetology and hair transplantation. I am well versed with lasers, chemical peels, and other minor dermatologic procedures. I have been doing hair transplants since 2018.

Read full bio of Dr. Suvina Attavar