Written by , (शिक्षा- बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मीडिया कम्युनिकेशन)

चेहरे, बाजू या शरीर के अन्य हिस्सों पर तिल का होना आम बात है। ये शरीर के कुछ खास हिस्सों जैसे चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने का काम करते हैं, लेकिन किसी एक हिस्से पर इनकी बढ़ती संख्या बदसूरती का कारण बन सकती है। यदि आप भी तिलों की समस्या से तंग आ चुके हैं और इनसे छुटकारा पाना चाहते हैं, तो परेशान होने की बिलकुल भी जरूरत नहीं है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम आपके लिए कुछ ऐसे ही कारगर तिल हटाने के घरेलू उपाय लेकर आए हैं, जो तिल की समस्या को कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं। पूरी जानकारी के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़ें।

शुरू करते हैं लेख

आर्टिकल में सबसे पहले जानेंगे कि तिल के कारण क्या हैं।

तिल होने का कारण – Causes of Moles in Hindi

तिल क्या है? तिल के कारण क्या हैं? इस संबंध में बात करें, तो हमें जान लेना चाहिए कि त्वचा पर एकत्रित पिगमेंटेड कोशिकाएं ही हैं, जो तिल के रूप में दिखाई देती हैं। तिल पूरे शरीर पर कहीं भी पाए जा सकते हैं (1)। वहीं, शरीर पर तिल के कारण पर गौर करें, तो इनके होने के निम्नलिखित वजह हो सकती हैं (1) (2) :

  • शरीर के किसी एक निश्चित स्थान पर मेलेनोसाइट्स (त्वचा में रंगद्रव्य कोशिकाएं) का एकत्रित होना तिल के विकसित होने का मुख्य कारण है
  • कई स्थितियों में तिल के कारण आनुवंशिक या हार्मोनल बदलाव भी हो सकते हैं।
  • लंबे समय तक धूप में रहना भी तिल होने का एक बड़ा कारण हो सकता है।

बने रहें हमारे साथ

यहां हम तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय को बड़े ही सरल शब्दों में बता रहे हैं।

तिल कम करने के लिए घरेलू उपाय – Home Remedies To Remove Moles in Hindi

यहां हम कुछ ऐसे चेहरे से तिल हटाने के घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं, जिनकी मदद से तिल को कम करने में मदद मिल सकती है। हालांकि, इस बात का ध्यान रखें कि बताए जा रहे घरेलू नुस्खे किसी भी तरीके से तिल हटाने का इलाज नहीं हैं। तो चलिए जान लेते हैं, तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय :

1. एलोवेरा

सामग्री :

  • ताजा एलोवेरा जेल (आवश्यतानुसार)
  • सूती कपड़े की पट्टी

उपयोग करने का तरीका :

  • पहले तिल वाली जगह को अच्छे से साफ करें।
  • फिर तिल वाले स्थान पर अच्छे से एलोवेरा जेल को लगाएं।
  • इसके बाद उस स्थान को सूती कपड़े की पट्टी से ढककर बांध दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

तिल हटाने के तरीके और घरेलू उपाय में एलोवेरा का इस्तेमाल भी शामिल है। बता दें एलोवेरा में पोलीसेकेराइड, एंजाइम, विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं। इन्हें त्वचा के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए उपयोगी माना जाता है (3)। इसके अलावा, एलोवेरा में सनबर्न और पिगमेंटेशन को कम करने की भी क्षमता होती है (4)। ऐसे में यह कहा जा सकता है कि पिगमेंटेशन और लंबे समय तक धूप में रहने के कारण होने वाले तिल को कुछ हद तक कम करने में एलोवेरा सहायक साबित हो सकता है।

2. ग्रीन टी

सामग्री :

  • चार से पांच ग्रीन टी के पत्ते
  • एक या दो बूंद शहद

उपयोग करने का तरीका :

  • ग्रीन टी के पत्तों को अच्छे से साफ कर पीस लें।
  • फिर इसमें शहद मिलाएं।
  • इस मिश्रण को तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

ग्रीन टी के इस्तेमाल से भी अनचाहे तिलों की समस्या को कम किया जा सकता है। एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक रिसर्च से इस बात की जानकारी मिलती है कि ग्रीन टी के अर्क में एंटी-मेलानोजेनिक प्रभाव होते हैं, जो मेलेनिन (रंगद्रव्य) के उत्पादन को नियंत्रित कर त्वचा की रंगत में सुधार का काम कर सकते हैं (5)। यही कारण है कि तिल को हटाने के उपाय में ग्रीन टी का उपयोग प्रभावकारी माना जा सकता है।

3. हल्दी

सामग्री :

  • एक चम्मच हल्दी
  • कुछ बूंदें शहद की

उपयोग करने का तरीका :

  • हल्दी और शहद को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को तिल पर लगाएं।
  • 15 से 20 मिनट के लिए इसे छोड़ दें।
  •  बाद में इसे पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को हर दिन दो बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

चेहरे से तिल हटाने के उपाय में हल्दी के इस्तेमाल को भी शामिल किया जा सकता है। इस संबंध में एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध से जानकारी मिलती है कि हल्दी का अर्क हाइपरपिगमेंटेशन को कम करने में सहायक साबित हो सकता है (6)। इससे पिगमेंटेड कोशिकाओं को एकत्रित होने से रोकने और इनकी वजह से होने वाली तिल की समस्या को कम करने में मदद मिल सकती है।

4. शहद

सामग्री :

  • दो से तीन बूंद शहद
  • सूती कपड़े की पट्टी

उपयोग करने का तरीका :

  • तिल वाले स्थान पर शहद लगाएं और फिर उसे सूती कपड़े की पट्टी से ढकें।
  • इसके बाद इसे एक घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर पट्टी हटा दें।
  • बाद में शहद वाले स्थान को पानी से धो लें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

तिल को हटाने के उपाय के लिए शहद का उपयोग भी लाभकारी माना जा सकता है। बता दें कि शहद में ग्लूकॉनिक एसिड मौजूद होता है, जिसका इस्तेमाल कई कॉस्मेटिक उत्पादों में किया जाता है। यह त्वचा को एक्सफोलिएट (त्वचा से मृत कोशिकाओं को निकालना) करने में सहायक माना जाता है (7)

इसके अलावा, शहद फोटोप्रोटेक्टिव प्रभाव भी प्रदर्शित कर सकता है, जिससे सूर्य की हानिकारक किरणों की वजह से होने वाली तिल की समस्या से बचाव हो सकता है (8)। इन तथ्यों को देखते हुए ऐसा माना जा सकता है कि शहद का उपयोग कुछ हद तक तिल से छुटकारा दिलाने में सहायक हो सकता है।

5. नींबू का रस

सामग्री :

  • नींबू का रस आवश्यकतानुसार
  • रूई
  • एडहेसिव टेप

उपयोग करने का तरीका :

  • नींबू के रस में रूई को डुबोकर तिल पर लगाएं।
  • टेप का इस्तेमाल कर रूई को तिल वाली जगह पर चिपकाएं।
  • इसे करीब 20 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में करीब दो बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

तिल को हटाने के लिए नींबू के रस का इस्तेमाल भी कारगर तरीका साबित हो सकता है। नींबू के रस में कसैले गुणों के साथ त्वचा को एक्सफोलिएट करने की क्षमता पाई जाती है (9)। इसके अलावा, नींबू में मौजूद ब्लिचिंग गुण और साइट्रिक एसिड त्वचा के कालेपन को दूर करने में भी सहायक हो सकते हैं (10)। ऐसे में, हम मान सकते हैं कि नींबू में मौजूद ये गुण तिल को हटाने में कुछ हद तक लाभकारी हो सकते हैं। इसलिए, नींबू को चेहरे से तिल हटाने के घरेलू नुस्खे में शामिल किया जा सकता है।

6. पपीता

सामग्री :

  • पपीते के छोटे टुकड़े एक से दो
  • एक सूती पट्टी

उपयोग करने का तरीका :

  • पपीता के टुकड़े को पीसकर उसका पेस्ट बना लें।
  • अब इस पेस्ट को तिल वाले स्थान पर लगाएं और सूती पट्टी से बांध कर ढकें।
  • कुछ समय के लिए इसे ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को हर दिन तीन से बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

तिल हटाने के घरेलू उपाय में पपीते के फायदे भी शामिल हैं। बताया जाता है कि पपीता पिगमेंटेशन को साफ करने में सहायक हो सकता है (11)। इसके अलावा, पपीता त्वचा को बेहतर तरीके से एक्सफोलिएट भी कर सकता है (12)। पपीते में मौजूद ये गुण कुछ हद तक तिल की समस्या में लाभकारी हो सकते हैं। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

जारी रखें पढ़ना

7. आलू

सामग्री :

  • आलू का एक टुकड़ा
  • सूती कपड़े की पट्टी

उपयोग करने का तरीका :

  • आलू के टुकड़े को तिल वाली जगह पर अच्छे से रगड़ें।
  • जब त्वचा पर आलू का रस अच्छे से लग जाए, तो टुकड़े को पट्टी की मदद दो-तीन घंटे के लिए बांध दें।
  • ऐसा रोजाना दो से तीन बार किया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद :

तिल की समस्या से परेशान लोगों के लिए आलू का उपयोग वैकल्पिक उपचार के तौर पर काम आ सकता है। इस पर हुए शोध से जानकारी मिलती है कि आलू एक बेहतर क्लींजर की तरह काम कर सकता है। साथ ही यह विटामिन-सी से भी भरपूर होता है, जो त्वचा से हाइपरपिगमेंटेशन को कम करने में उपयोगी साबित हो सकता है (13) (14)। ऐसे में, हम कह सकते हैं कि आलू का इस्तेमाल तिल हटाने के नुस्खे के रूप में कुछ हद तक लाभकारी हो सकता है।

8. ग्रेपफ्रूट (चकोतरा)

सामग्री :

  • कुछ बूंदें चकोतरे के रस की
  • सूती कपड़े की पट्टी

उपयोग करने का तरीका :

  • चकोतरे के रस को सीधे तिल पर लगाएं।
  • तिल वाले स्थान को पट्टी से ढकें।
  • उसे करीब एक घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • इस प्रक्रिया को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

ग्रेपफ्रूट का उपयोग तिल को कम करने में असरदार साबित हो सकता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि ग्रेपफ्रूट यानी चकोतरा एक खट्टा फल है, जो विटामिन-सी से भरपूर होता है (15)। वहीं, एनसीबीआई की वेबसाइट पर मौजूद एक रिसर्च से जानकारी मिलती है कि विटामिन-सी हाइपरपिगमेंटेशन को कम करने में प्रभावी हो सकता है (14)। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि तिल को दूर करने के उपाय में चकोतरा का इस्तेमाल कुछ हद तक लाभकारी साबित हो सकता है।

9. रोजहिप

सामग्री :

  • रोजहिप या रोजहिप के बीज का पाउडर (एक छोटा चम्मच)
  • शहद एक से दो बूंद
  • सूती कपड़े की पट्टी

उपयोग करने का तरीका :

  • सबसे पहले रोजहिप पाउडर में शहद की कुछ बूंदें मिला लें।
  • अब इसे रूई की सहायता से तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • इसके बाद इसे पट्टी से एक घंटे के लिए ढक कर छोड़ दें।
  • समय पूरा होने पर त्वचा को पानी से धो लें।
  • इस प्रक्रिया को रोजाना दो से तीन बार दोहराया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद :

रोजहिप की चाय सेहत के लिए फायदेमंद मानी जाती है। वहीं, चेहरे से तिल हटाने के घरेलू नुस्खे के तौर पर भी रोजहिप का इस्तेमाल किया जा सकता है। बताया जाता है कि रोजहिप के बीज में नेचुरल एक्सफोलिएटिंग गुण होता है, जो त्वचा को क्षति पहुंचाए बिना डेड स्किन को बाहर निकालने में सहायक साबित हो सकता है (12)

इसके अलावा, रोजहिप के अर्क में पिगमेंटेशन को कम करने वाला प्रभाव पाया जाता है, जिससे तिल को हल्का करने में कुछ हद तक मदद मिल सकती है (16)। हालांकि, तिल हटाने के नुस्खे में यह कितना कारगर होगा, इसे लेकर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।  

10. अनानास का रस

सामग्री :

  • अनानास का एक टुकड़ा

उपयोग करने का तरीका :

  • अनानास के टुकड़े को तिल वाली जगह पर कुछ मिनट तक अच्छे से रगड़ें।
  • जब अनानास का रस तिल के हिस्से पर अच्छी तरह लग जाए, तो उसे कुछ मिनटों के लिए ऐसी ही छोड़ दें।
  • बाद में त्वचा को पानी से साफ करने लें।
  • इस प्रक्रिया को आप दिन में तीन से चार बार दोहरा सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

चेहरे से तिल हटाने के तरीके में अनानास एक बेहतरीन उपाय साबित हो सकता है। अनानास के जूस में साइट्रिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है (17)। इसके अलावा, अनानास में एक्सफोलिएटिंग गुण भी होते हैं (12)। वहीं, एक अन्य शोध में जिक्र मिलता है कि अनानास में एंटी ब्राउनिंग प्रभाव पाए जाते हैं, जो स्किन व्हाइटनिंग एजेंट के रूप में काम कर सकते हैं (18)। इन तथ्यों को देखते हुए हम मान सकते हैं कि तिल की समस्या में अनानास का उपयोग कुछ हद तक लाभकारी हो सकता है। 

11. हाइड्रोजन पेरोक्साइड

सामग्री :

  • हाइड्रोजन पेरोक्साइड
  • कॉटन बड

उपयोग करने का तरीका :

  • कॉटन बड की सहायता से हाइड्रोजन पेरोक्साइड को तिल पर लगाएं।
  • इस प्रक्रिया को दिन में तीन से चार बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

तिल हटाने के घरेलू उपाय में हाइड्रोजन पेरोक्साइड का इस्तेमाल किया जा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर मौजूद एक रिसर्च से जानकारी मिलती है कि पिगमेंटेशन को कम करने के लिए हाइड्रोजन पेरोक्साइड प्रभावी हो सकता है। दरअसल, यह मेलेनिन (रंगद्रव्य) पर ब्लीचिंग प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है, जिससे पिगमेंटेशन में सुधार हो सकता है (19)

इस आधार पर माना जा सकता है कि तिल को हटाने के उपाय में हाइड्रोजन पेरोक्साइड को शामिल करना लाभकारी हो सकता है। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

12. प्याज का रस

सामग्री :

  • एक चौथाई प्याज का टुकड़ा
  • आवश्यकतानुसार पानी

उपयोग करने का तरीका :

  • प्याज के टुकड़े को पीस कर रस निकाल लें।
  • अब प्याज के रस को तिल वाले स्थान पर लगाएं।
  • इसे ऐसे ही करीब 1 घंटे के लिए छोड़ दें।
  • समय हो जाने के बाद इसे पानी से धो डालें।
  • इस प्रक्रिया को रोजाना 2 से 3 बार दोहराएं।

कैसे है फायदेमंद :

प्याज का उपयोग भी तिल को कम करने में मदद कर सकता है। दरअसल, एक शोध में पाया गया है कि त्वचा के दाग-धब्बों को दूर करने के लिए प्याज के रस का इस्तेमाल प्रभावी हो सकता है। वहीं, प्याज में विटामिन-सी मौजूद होता है। बता दें कि विटामिन-सी हाइपरपिगमेंटेशन के उपचार में सहायक माना जाता है (20) (14)। इससे तिल की समस्या को कुछ हद तक कम किया जा सकता है। इस आधार पर चेहरे से तिल हटाने के घरेलू नुस्खे में प्याज को शामिल किया जा सकता है।

13. लहसुन

सामग्री :

  • लहसुन की एक कली
  • सूती कपड़े का टुकड़ा

उपयोग करने का तरीका :

  • लहसुन को कुचलकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को तिल पर लगाएं।
  • अब ऊपर से सूती कपड़ा लपेट कर रातभर के लिए छोड़ दें।
  • अच्छे परिणाम के लिए तीन सप्ताह तक लगातार दिन में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराया जा सकता है।

कैसे है फायदेमंद :

चेहरे से तिल हटाने के उपाय में लहसुन का इस्तेमाल भी लाभकारी हो सकता है। दरअसल, एक शोध में जिक्र मिलता है कि लहसुन सूर्य की हानिकारक यूवी किरणों से त्वचा को बचा सकता है (21)। वहीं, हम ऊपर बता चुके हैं कि ज्यादा देर धूप में रहने से तिल के होने का जोखिम बढ़ सकता है। ऐसे में, हम कह सकते हैं कि लहसुन का प्रयोग कुछ हद तक तिल से बचाव का काम कर सकता है।  

अभी बाकी है जानकारी

लेख के इस हिस्से में जानिए तिल कम करने के लिए डॉक्टरी परामर्श कब लेना चाहिए।

तिल कम करने के लिए डॉक्टर की सलाह कब लेनी चाहिए?

तिल से जुड़ी कुछ स्थितियों में त्वचा विशेषज्ञ की सलाह लेना जरूरी हो जाता है। दरअसल, कुछ दुर्लभ मामलों में तिल का बड़ा आकार (जो जन्म के समय से मौजूद होता है) त्वचा कैंसर के जोखिम को बढ़ा सकता है (2)। ऐसे में, यहां हम कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिनके दिखने पर डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए (22) :

  • तिल का अनियमित आकार
  • जब तिल का रंग बदल जाए
  • अगर तिल का आकार बहुत बड़ा हो जाए
  • तिल वाली जगह पर खुजली या दर्द होना

पढ़ते रहें आर्टिकल

आइये, अब तिल से बचने के उपाय भी जान लीजिए।

तिल से बचने के उपाय – Prevention Tips for Moles in Hindi

तिल को हटाने के उपाय तो जान ही चुके हैं, चलिए अब जरा इससे बचने के उपाय भी जान लीजिए :

  • धूप में ज्यादा देर तक न रहें।
  • अगर लंबे समय तक धूप में रहना पड़े, तो सनस्क्रीन लोशन का इस्तेमाल करें
  • पहले से मौजूद तिलों की स्थिति पर नजर बनाएं रखें, तिलों की संख्या अधिक होने पर डॉक्टर से संपर्क करें।
  • साथ ही त्वचा को हमेशा साफ रखें।

अब तो आप यह अच्छी तरह जान गए होंगे कि तिल क्या होते हैं और ये किन कारणों से विकसित होते हैं। वहीं, लेख के माध्यम से हमने आपको चेहरे से तिल हटाने के उपाय से संबंधित कई घरेलू उपचारों और सुझावों के बारे में भी बताया गया है। इन उपायों की मदद से तिल की समस्या से कुछ हद तक कम किया जा सकता है। वहीं, घरेलू नुस्खे अगर काम न करें, तो डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। हम आशा करते हैं कि लेख में शामिल की गई जानकारी आपके लिए मददगार साबित होगी। इसी तरह लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें स्टाइलक्रेज के साथ।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल :

क्या तिल से छुटकारा पाने की प्रक्रिया में दर्द होता है?

तिल को हल्का करने के लिए ऊपर बताए गए घरेलू नुस्खों के इस्तेमाल से दर्द नहीं होता है। इसके अलावा, सर्जरी के दौरान भी तिल वाली जगह को सुन्न कर दिया जाता है। हालांकि, सर्जरी के बाद हल्का दर्द प्रभावित जगह पर हो सकता है। अच्छा होगा इस विषय में डॉक्टरी सलाह ली जाए।

क्या लेजर विधि से तिल हटाने पर दाग रह जाता है?

हां, चेहरे से तिल हटाने के उपाय में लेजर ट्रीटमेंट के बाद कई मामलों में संभव है कि दाग रह जाए। लेकिन, यह इतना छोटा होगा कि इसके होने का एहसास न के बराबर हो सकता है। अच्छा होगा कि इस विषय में एक बार त्वचा विशेषज्ञ से बात करें।

एक तिल हटाने में कितना खर्च आता है?

अगर चेहरे से तिल हटाने के उपाय में लेजर विधि या सर्जरी का उपयोग किया जा रहा है, तो इसका भारत में औसतन खर्च करीब 5000 रुपये तक आ सकता है। चूंकि तिल को जड़ से हटाने के लिए इस प्रक्रिया को दो से तीन बार दोहराने की जरूरत पड़ती है, इसलिए इस पर आने वाली लागत और भी बढ़ सकती है। ध्यान देने वाली बात यह है कि चिकित्सक और अस्पताल के आधार पर तिल हटाने के खर्च में परिवर्तन आ सकता है।

क्या रात भर में तिल से छुटकारा पा सकते हैं?

नहीं, रात भर में तिल से छुटकारा नहीं पाया जा सकता है।

क्या घर बैठे तिल से छुटकारा पा सकते हैं?

नहीं, घर बैठे तिल से पूरी तरीके से छुटकारा नहीं पाया जा सकता है। हालांकि, लेख में बताए गए घरेलू उपायों की मदद से घर बैठे तिल की समस्या को कुछ हद तक कम किया जा सकता है।

प्राकृतिक रूप से किसी तिल को हटाने का सबसे तेज तरीका क्या है?

प्राकृतिक रूप से तिल को हटाने का सबसे तेज तरीका क्या है, यह बता पाना थोड़ा मुश्किल है।

सेब का सिरका तिल को कैसे हटाता है?

तिल को हल्का करने के लिए सेब के सिरके का उपयोग करना फायदेमंद माना जा सकता है। दरअसल, एक शोध में सेब का सिरका पिगमेंटेशन को कम में प्रभावी पाया गया है (23)। ऐसे में माना जा सकता है कि सेब का सिरका तिल को हल्का करने में कुछ हद तक कारगर साबित हो सकता है।

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Moles
    https://medlineplus.gov/moles.html
  2. Are moles determined by genetics?
    https://medlineplus.gov/genetics/understanding/traits/moles/
  3. Aloe Vera : A Short Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2763764/
  4. Aloe Vera: The Potted Physician – A review
    https://iarjset.com/upload/2015/august-15/IARJSET%206.pdf
  5. Anti-melanogenic effects of black, green, and white tea extracts on immortalized melanocytes
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4483495/
  6. Are Natural Ingredients Effective in the Management of Hyperpigmentation? A Systematic Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5843359/
  7. An Exploration of Parameters of The Fermentation Process of Honey Riched in Gluconic Acid – Oriented in Cosmetics Applications
    http://www.ijpsi.org/Papers/Vol6(4)/D06041724.pdf
  8. Honey Extracts Exhibit Cytoprotective Properties against UVB-Induced Photodamage in Human Experimental Skin Models
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC7402120/
  9. Formulation and evaluation of herbal face mist
    http://www.jipbs.com/VolumeArticles/FullTextPDF/471_JIPBSV7I102.pdf
  10. Acanthosis Nigricans: An Edifying Review
    http://mcmed.us/downloads/1502805356icha_Wadhawan_110-115_review.pdf
  11. Benefits of Papaya
    https://ijanm.com/HTMLPaper.aspx?Journal=International%20Journal%20of%20Advances%20in%20Nursing%20Management;PID=2019-7-2-19
  12. Skin Care with Herbal Exfoliants
    https://www.researchgate.net/publication/224892687_Skin_Care_with_Herbal_Exfoliants
  13. Health Benefits and Cons of Solanum tuberosum
    https://www.plantsjournal.com/vol1Issue1/Issue_jan_2013/3.pdf
  14. Vitamin C in dermatology
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3673383/
  15. Consumption of grapefruit is associated with higher nutrient intakes and diet quality among adults, and more favorable anthropometrics in women, NHANES 2003–2008
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4016745/
  16. Therapeutic Applications of Rose Hips from Different Rosa Species
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5485961/
  17. Effect of Processing on the Quality of Pineapple Juice
    https://www.researchgate.net/publication/261949877_Effect_of_Processing_on_the_Quality_of_Pineapple_Juice
  18. Skin Ageing: Natural Weapons and Strategies
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3569896/
  19. Melanin bleaching with dilute hydrogen peroxide: a simple and rapid method
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23060296/
  20. Allium cepa: A traditional medicinal herb and its health benefits
    https://www.jocpr.com/articles/allium-cepa-a-traditional-medicinal-herb-and-its-health-benefits.pdf
  21. Protective Effect of Garlic on Cellular Senescence in UVB-Exposed HaCaT Human Keratinocytes
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4997377/
  22. UV Radiation and the Skin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3709783/
  23. Varicose Veins: An Overview Of Current And Herbal Treatments
    https://ijpsr.com/bft-article/varicose-veins-an-overview-of-current-and-herbal-treatments/?view=fulltext
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Saral Jain
Saral Jainहेल्थ एंड वेलनेस राइटर
सरल जैन ने श्री रामानन्दाचार्य संस्कृत विश्वविद्यालय, राजस्थान से संस्कृत और जैन दर्शन में बीए और डॉ.

Read full bio of Saral Jain