How To Potty Train AChild with Autism, PG Diploma In Dietetics & Hospital Food Services
Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

जानवरों पर शोध करके उनसे कई प्रकार के फायदेमंद कंपाउंड प्राप्त किए जाते हैं। उन्हीं में से एक जिलेटिन है। आमतौर पर जिलेटिन का उपयोग जेली और गम कैंडी बनाने के लिए किया जाता है। साथ ही इसमें पाए जाने वाले गुणों और पोषक तत्वों की वजह से इसका उपयोग कई बीमारियों के लक्षणों को कम करने के लिए भी किया जाता रहा है। स्टाइलक्रेज के इस आर्टिकल में हम जिलेटिन के बारे में विस्तार से बता रहे हैं। साथ ही हम जिलेटिन के फायदे, उपयोग और नुकसान के बारे में भी बताएंगे। यहां दी जा रही सारी जानकारियां वैज्ञानिकों द्वारा किए गए रिसर्च पर आधारित है।

नीचे भी पढ़ें

लेख के शुरुआत में जानते हैं कि जिलेटिन क्‍या है।

जिलेटिन क्‍या है – What is Gelatin in Hindi

जिलेटिन एक प्रकार का प्रोटीन है, जिसे जानवरों के मांस, हड्डियों व कनेक्टिव टिशू से निकले कोलेजन अर्क से प्राप्त किया जाता है (1)यह पारदर्शी, स्वादहीन और रंगहीन पदार्थ होता है, जिसका उपयोग खाद्य पदार्थों से लेकर दवाइयों तक में किया जाता है (2) यह किस तरह से शरीर को लाभ पहुंचाता है जानने के लिए लेख का अगला भाग पढ़ें। वहां विस्तार से हमने जिलेटिन के फायदे बताए हैं।

आगे है जरूरी जानकारी

चलिए, अब जानते हैं कि जिलेटिन के फायदे क्या-क्या हो सकते हैं।

जिलेटिन के फायदे – Benefits of Gelatin in Hindi

जिलेटिन में पाए जाने वाले औषधीय गुणों के कारण इसका उपयोग खाद्य पदार्थ के अलावा कुछ स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए भी किया जा सकता है। बस ध्यान दें कि यह किसी भी बीमारी का इलाज नहीं है, बल्कि उससे बचाव का एक तरीका हो सकता है। चलिए, आगे विस्तार से पढ़ते हैं स्वास्थ्य के लिए जिलेटिन के फायदे।

1. वजन कम करने के लिए

जिलेटिन का सेवन करके वजन कम करने में मदद मिल सकती है। दरअसल, जिलेटिन बार-बार लगने वाली भूख को कम कर सकता है। दरअसल, इसे डाइट में शामिल करने के बाद पेट को भरा-भरा एहसास होता है। इससे हर समय कुछ-न-कुछ खाने की इच्छा कम हो सकती है। इसी आधार पर माना जाता है कि जिलेटिन का सेवन करने से  वजन बढ़ने की प्रक्रिया कम हो सकती है और धीरे-धीरे वजन घट सकता है । जिलेटिन में प्रोटीन की अच्छी मात्रा होने के कारण शरीर की कोशिकाओं को मेंटेन रखने और मांसपेशियों के निर्माण में मदद मिल सकता है। इसलिए वजन घटाने में कितना सहायक हो सकता है, ये कहना मुश्किल है(3)

2. जोड़ों से संबंधी समस्या

जेली और अन्य पदार्थों में उपयोग होने वाला जिलेटिन जोड़ों के दर्द को दूर करने में भी कारगर हो सकता है। एनीसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफार्मेशन) की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध में भी इस बात का जिक्र मिलता है। रिसर्च पेपर के अनुसार, जिलेटिन में पाया जाने वाला कोलेजन ऑस्टियोअर्थराइटिस और ऑस्टियोपोरोसिस जैसे हड्डी रोग के उपचार में मददगार साबित हो सकता है (4) जिलेटिन में लाइसिन नामक  एमिनो एसिड होता है जो हड्डियों में कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाने का काम करता है (5) (6)

3. डायबिटीज से राहत

मधुमेह की समस्या से परेशान लोग भी जिलेटिन को आहार में शामिल कर सकते हैं। एक स्टडी में बताया गया है कि मछली से प्राप्त होने वाले जिलेटिन में ओमेगा-3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होता है। यह कई समस्याओं के साथ ही इंसुलिन की सक्रियता को बढ़ाकर टाइप-2 डायबिटीज को नियंत्रित करने में कुछ हद तक फायदेमंद हो सकता है (5)

एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, जिलेटिन युक्त खाद्य पदार्थ के सेवन से इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाने में मदद मिल सकती है, जो मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है (8)।  इसी वजह से मधुमेह डाइट में इसे शामिल किया जा सकता है। ध्यान रहे कि डायबिटीज के लिए सही मेडिकल ट्रीटमेंट जरूरी है। पर इस बात का खास ध्यान रखें कि  जिलेटिन से बनी कैंडी या डेजर्ट का सेवन नहीं करना चाहिए

4. नाखूनों के विकास के लिए

नाखूनों का पतलापन, कमजोर और बेजान होने के कारण उनका विकास बाधित हो सकता है। ऐसे में इससे छुटकारा पाने के लिए जिलेटिन की मदद ले सकते हैं। जर्नल ऑफ द सोसाइटी ऑफ कॉस्मेटिक्स केमिस्ट के एक शोध के अनुसार, जिलेटिन में पाया जाने वाला अमीनो एसिड नाखूनों के विकास में सहायक हो सकता है। साथ ही नाखूनों नाखूनों को छीलना, टूटना और दरार पड़ने जैसी समस्याओं को कम करने में भी मदद कर सकता है (7)

5. दांतों के लिए

दांतों के लिए भी जिलेटिन फायदेमंद हो सकता है। यूएसडीए (यूनाइटेड स्टेट डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर) के अनुसार, जिलेटिन में प्रोटीन की अच्छी मात्रा होती है (8)। एक शोध के अनुसार, प्रोटीन दांतों के लिए फायदेमंद हो सकता है। यह न सिर्फ कैविटी से, बल्कि सड़न से दांतों के इनेमल यानी टिश्यू को क्षतिग्रस्त होने से रोक सकता है (9)। साथ ही डेंटिस्ट जिलेटिन का इस्तेमाल दांतों की फीलिंग करने वाला मटेरियल बनाने के लिए भी करते हैं (10)

6. अच्छी नींद के लिए

अनिद्रा की समस्या को दूर करने और नींद के समय को बढ़ाने में जिलेटिन लाभदायक साबित हो सकता है। एनसीबीआई में प्रकाशित एक शोध के अनुसार, इसमें ग्लाइसिन नामक घटक होता है (11)। इस घटक का उपयोग अनिद्रा की समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है। साथ ही इसे नींद की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए भी जाना जाता है। ऐसे में कहा जा सकता है कि जिलेटिन अनिद्रा को दूर करने और नींद के समय को लंबा करने में मददगार हो सकता है (12)

7. आंत व पाचन संबंधी समस्याओं के लिए

जिलेटिन के फायदे में पेट को स्वस्थ रखना भी शामिल है। एनसीबीआई द्वारा पब्लिश एक शोध के अनुसार, जिलेटिन में मौजूद टैनिक एसिड इंफ्लेमेटरी बाउल की समस्या को कम कर सकता है (14)इस इंफ्लेमेटरी बाउल डिजिज का मतलब है गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रेक्ट की लाइनिंग में सूजन आना, जिसके कारण डायरिया व अन्य पाचन समस्याएं हो सकती हैं (13)

साथ ही इसमें एंटीडायरियल इफेक्ट भी होता है, जो दस्त की समस्या से राहत दिला सकता है (14)। इस आधार पर कहा जा सकता है कि यह पाचन व आंत संबंधी समस्याओं को दूर कर सकता है। बस ध्यान दें कि किसी भी गंभीर समस्या में जिलेटिन के भरोसे रहना उचित नहीं है। ऐसी परेशानी में डॉक्टर से संपर्क करना जरूरी है।

8. लिवर के लिए

जिलेटिन का उपयोग लिवर से जुड़ी समस्या से राहत पाने के लिए किया जा सकता है। इस संबंध में हुए एक रिसर्च की मानें, तो जिलेटिन लिवर की कोशिकाओं को ऑर्गेनिक हाइड्रोपरॉक्साइड कंपाउंड से होने वाले ऑक्सीडेंट इंजरी से बचा सकता है । साथ ही जिलेटिन में मौजूद ग्लाइसीन अमीनो एसिड शराब की वजह से होने वाली लीवर से जुड़ी समस्याओं को भी कुछ कम कर सकता है (15)। इसी आधार पर कहा जा सकता है कि यह लिवर के लिए फायदेमंद कहा जा सकता है।

9. त्वचा के लिए जिलेटिन के फायदे

त्वचा को स्वस्थ रखने में जिलेटिन सहायक भूमिका निभा सकता है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर पब्लिश मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, जिलेटिन त्वचा की एजिंग को धीमा करने का काम कर सकता है। दरअसल, यह स्किन की एंटी ऑक्सीडेंट गतिविधियों को बढ़ाकर उसपर एंटी-एजिंग प्रभाव दिखाता है। इससे उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को कम करने और एजिंग के लक्षणों से बचने में मदद मिल सकती है (16)

10. बालों के लिए

बालों के विकास और उनकी सुरक्षा के लिए जिलेटिन फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, जिलेटिन में मौजूद अमीनो एसिड्स बालों के लिए अच्छे साबित हो सकते हैं। रिसर्च में बताया गया है कि जिलेटिन का इस्तेमाल करने से बालों की मोटाई को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। साथ ही इसे आहार में शामिल करने से बालों के कम होने की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है (17)

स्क्रॉल करें

लेख में आगे बढ़ते हुए जानते हैं कि जिलेटिन में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं।

जिलेटिन के पौष्टिक तत्व – Gelatin Nutritional Value in Hindi

जिलेटिन में पाए जाने वाले पोषक तत्व के बार में हम नीचे तालिका के जरिए बता रहे हैं (8):

पोषक तत्वमूल्य प्रति 100 g
ऊर्जा429 kcal
प्रोटीन100 g
सोडियम143 mg

पढ़ना जारी रखें

अब हम आर्टिकल के अगले भाग में बता रहे हैं कि जिलेटिन का उपयोग कैसे करना चाहिए।

जिलेटिन का उपयोग – How to Use Gelatin in Hindi

चिकित्सा के क्षेत्र में जिलेटिन पाउडर का उपयोग कैप्सूल की कोटिंग करने के लिए होता है। साथ ही इसका इस्तेमाल कॉस्मेटिक्स में भी किया जाता है (2)। इनके अलावा, जिलेटिन को कुछ अन्य तरीकों से भी उपयोग किया में लाया जा सकता है, जो इस प्रकार हैं (18):

  • जिलेटिन पाउडर का उपयोग कैंडी बनाने के लिए किया जा सकता है।
  • मार्शमैलो बनाने में इसका इस्तेमाल होता है।
  • जिलेटिन के उपयोग से केक को सजाया जा सकता है।
  • आइसक्रीम बनाने के लिए भी जिलेटिन का उपयोग किया जा सकता है।
  • इसे स्मूथी में मिलाया जा सकता है।
  • जिलेटिन को दूध में डालकर भी पी सकते हैं।

कितनी मात्रा में करें उपयोग : इसका उपयोग अधिकतम प्रतिदिन 10 ग्राम तक किया जा सकता है (2)

पढ़ते रहें लेख

चलिए, आगे जानते हैं कि जिलेटिन के नुकसान क्या-क्या हो सकते हैं।

जिलेटिन के नुकसान – Side Effects of Gelatin in Hindi

जरूरी नहीं कि जिलेटिन फायदेमंद ही रहे। इसका अधिक सेवन करने से जिलेटिन के नुकसान भी हो सकते हैं। इससे होने वाले नुकसान कुछ इस प्रकार हैं।

  • ऐसे लोग जिन्हें जिलेटिन से एलर्जी है, उन्हें इससे दूर ही रहना चाहिए। नहीं तो एलर्जिक रिएक्शन हो सकते हैं (19)
  • एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार, इसका अधिक सेवन लिवर और किडनी संबंधित समस्याएं पैदा कर सकता है (20)

इस आर्टिकल के माध्यम से आपने जिलेटिन के उपयोग, फायदे और नुकसान के बारे में जाना। आपने पढ़ा कि किस प्रकार से जिलेटिन को प्राप्त किया जाता है। साथ ही कैसे इसका उपयोग खाद्य पदार्थों के साथ-साथ इसमें पाए जाने वाले औषधीय गुणों की वजह से सेहत और त्वचा के लिए भी किया जा सकता है। अगर आपने आर्टिकल को पढ़कर इसे अपनी डाइट में शामिल करने का मन बना लिया है, तो एक बार अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें।

अब हम जिलेटिन को लेकर पूछे गए कुछ सवालों के जवाब दे रहे हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

जिलेटिन किस चीज से बना होता है?

जिलेटिन को जानवरों के मांस, हड्डियों व कनेक्टिव टिशू से निकले कोलेजन के अर्क से प्राप्त किया जाता है (1)

प्रतिदिन कितना जिलेटिन का सेवन सुरक्षित है?

प्रतिदिन अधिकतम 10 ग्राम जिलेटिन का सेवन सुरक्षित हो सकता है (2)

क्या जिलेटिन खाना ठीक है?

जी हां, जिलेटिन का सेवन करना ठीक होता है (2)

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Gelatin processing
    https://www.ams.usda.gov/sites/default/files/media/Gelatin%20Fish%20TR%20Review.pdf
  2. Gelatin
    https://medlineplus.gov/druginfo/natural/1051.html
  3. Hydrolyzed collagen (gelatin) decreases food efficiency and the bioavailability of high-quality protein in rats
    https://www.scielo.br/scielo.php?script=sci_arttext&pid=S1415-52732015000400421
  4. Role of collagen hydrolysate in bone and joint disease
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/11071580/
  5. Physico-mechanical properties of gelatin films modified with Lysine, Arginine and Histidine
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/29113886/
  6. Effect of amino acids lysine and arginine on fracture healing in rabbits: A radiological and histomorphological analysis
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2762560/
  7. NEW ASPECTS OF THE EFFECTS OF GELATIN ON FINGERNAILS
    http://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.575.8364&rep=rep1&type=pdf
  8. GELATIN
    https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/375924/nutrients
  9. Can Proteins Cure Dental Cavities?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5968672/
  10. Nanohydroxyapatite-, Gelatin-, and Acrylic Acid-Based Novel Dental Restorative Material
    https://pubs.acs.org/doi/10.1021/acsomega.0c03125
  11. Gelatin versus its two major degradation products, prolyl‐hydroxyproline and glycine, as supportive therapy in experimental colitis in mice
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6021736/
  12. The Sleep-Promoting and Hypothermic Effects of Glycine are Mediated by NMDA Receptors in the Suprachiasmatic Nucleus
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4397399/
  13. Inflammatory bowel disease – series—Indications
    https://medlineplus.gov/ency/presentations/100171_2.htm
  14. Gelatin tannate reduces the proinflammatory effects of lipopolysaccharide in human intestinal epithelial cells
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3358810/
  15. Glycine modulates hepatic lipid accumulation in alcohol-induced liver injury
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/14581719/
  16. The anti-skin-aging effect of oral administration of gelatin from the swim bladder of Amur sturgeon (Acipenser schrenckii)
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/31187836/
  17. Gelatin-cystine, keratogenesis and structure of the hair
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/6189501/
  18. Use and application of gelatin as potential biodegradable packaging materials for food products
    https://www.academia.edu/17477636/Use_and_application_of_gelatin_as_potential_biodegradable_packaging_materials_for_food_products
  19. Systemic allergic reactions to gelatin included in vaccines as a stabilizer
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/11135703/
  20. Intraoperative use of gelatin in living donor liver transplantation and postoperative acute kidney injury
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4470756/
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
How To Potty Train AChild with Autism

How To Potty Train AChild with AutismPG Diploma In Dietetics & Hospital Food Services