Dr. Suvina Attavar, MBBS, DVD
Written by , (शिक्षा- बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मीडिया कम्युनिकेशन)

अगर आंखों के नीचे काले घेरे यानी डार्क सर्कल हो जाएं, तो चेहरे की खूबसूरती बेरंग लगती है। वक्त रहते डार्क सर्कल के उपाय नहीं करने पर चेहरे की चमक खोने लगती है। आंखों के नीचे काले घेरे हो जाने पर आप बीमार नजर आने लगते हैं। ऐसे में डार्क सर्कल हटाने के लिए उपाय करना जरूरी है। इस लेख में हम आपको डार्क सर्कल के उपाय बता रहे हैं, जो बहुत ही आसान और असरदार साबित हो सकते हैं। काले घेरे हटाने के उपाय जानने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल।

डार्क सर्कल के उपाय जानने से पहले हम यह पता करते हैं कि ये होते क्यों हैं।

डार्क सर्कल्स के कारण – Causes of Dark Circles in Hindi

आंखों के नीचे कालापन होने के कई कारण हो सकते हैं। नीचे हम आपको कुछ सामान्य, लेकिन ध्यान देने वाले कारण आपको बता रहे हैं, जिससे आंखों के नीचे काले घेरे हो सकते हैं।

  1. नींद पूरी न होना
  2. जरूरत से ज्यादा देर तक सोना
  3. थकावट के कारण
  4. सही डाइट न लेना
  5. शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी के कारण कमजोरी होने से
  6. ज्यादा मेकअप लगाने की वजह से
  7. त्वचा के संक्रमण जैसे – एक्जिमा या खुजली की वजह से
  8. बढ़ती उम्र
  9. नाक की एलर्जी
  10. धूप की वजह से या धूप में सनस्क्रीन न लगाने के वजह से
  11. ज्यादा स्क्रीन टाइम के कारण जैसे – लैपटॉप, टीवी या मोबाइल का अधिक उपयोग

आंखों के नीचे कालापन यानी डार्क सर्कल आनुवंशिक भी हो सकता है (1), यानी अगर परिवार में किसी को डार्क सर्कल की परेशानी है, तो भविष्य में किसी अन्य सदस्य के साथ भी ऐसा हो सकता है। कुछ लोगों के डार्क सर्कल एक उम्र के बाद अपने आप ठीक भी हो जाते हैं।

आंखों के नीचे काले घेरे (डार्क सर्कल) हटाने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Dark Circles in Hindi

अब जब आपको आंखों के नीचे काले घेरे होने के कारणों के बारे में पता चल ही गया है, तो अब वक्त है डार्क सर्कल के उपाय जानने का। नीचे हम आपको आंखों के काले घेरे हटाने के कुछ आसान घरेलू उपाय (home remedies for dark circles in hindi) बता रहे हैं।

1. आंखों के नीचे कालापन दूर करने के लिए टमाटर

हर घर की रसोई में टमाटर एक अहम स्थान है और इसे खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए जाना जाता है। इसके अलावा, क्या आपको पता है कि टमाटर आपकी त्वचा के लिए भी बहुत खास है। यह त्वचा को कई फायदे पहुंचा सकता है। अगर डार्क सर्कल की बात करें, तो टमाटर इसमें काफी लाभकारी हो सकता है।

सामग्री

  • एक चम्मच टमाटर का रस
  • एक चम्मच नींबू का रस

बनाने और लगाने की विधि

  • एक कटोरी में टमाटर और नींबू के रस को मिला लें।
  • फिर इसे अपने डार्क सर्कल पर लगाएं और 10 मिनट तक लगा रहने दें।
  • कुछ देर बाद ठंडे पानी से धो लें।

कब लगाएं?

आप इसे दो से तीन हफ्ते तक दिनभर में दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

टमाटर में लाइकोपीन होता है। यह एक प्रकार का फाइटोकेमिकल है, जो त्वचा के लिए फायदेमंद है (1)। यह त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से भी बचाता है और रंगत को निखार सकता है (2) (3)।

सावधानी : अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो इसे आंखों के नीचे की त्वचा पर लगाने से पहले इसमें एक चम्मच गुलाब जल मिला लें।

2. डार्क सर्कल्स के लिए गुलाब जल

आजकल बाजार में गुलाब जल आसानी से उपलब्ध है और उसका काफी प्रयोग किया जा रहा है क्योंकि यह त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। इसलिए, आंखों के काले घेरे हटाने के उपाय की लिस्ट में हमने गुलाब जल को शामिल किया है।

सामग्री

  • गुलाब जल
  • रूई के दो छोटे गोले

बनाने और लगाने की विधि

  • रूई को गुलाब जल में भिगोएं।
  • अब रूई को आंखों के नीचे रखें और 15 मिनट के लिए रहने दें।
  • फिर ठंडे पानी से धो दें।

कब लगाएं?

आप अच्छे परिणाम के लिए चार हफ्तों तक हर रोज इसे लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

गुलाब जल में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो त्वचा की कोशिकाओं को मजबूत करने और त्वचा को फिर से जवां करने में मदद करते हैं। इस प्रकार आपको डार्क सर्कल से छुटकारा पाने में मदद मिल सकती है। आप गुलाब जल को आंखों के लोशन के तौर पर भी उपयोग कर सकते हैं (4)।

3. डार्क सर्कल्स के लिए बादाम तेल

अच्छी सेहत के लिए बादाम खाना जरूरी है। ठीक उसी तरह बादाम तेल भी बहुत लाभकारी होता है, खासकर त्वचा के लिए। कई सालों से लोग बादाम तेल का उपयोग करते आ रहे हैं और यह न सिर्फ त्वचा, बल्कि बालों के लिए भी बहुत गुणकारी होता है। यह डार्क सर्कल के लिए भी बहुत असरदार साबित हो सकता है।

सामग्री

  • बादाम तेल की कुछ बूंदें

लगाने की विधि

  • रात को सोने से पहले आप अपने डार्क सर्कल पर बादाम तेल की बूंदें लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसे रातभर लगा रहने दें और फिर अगली सुबह धो लें।

कब लगाएं?

इसे हर रोज रात को सोने से पहले लगाएं, जब तक कि आपकी आंखों के नीचे काले घेरे कम न हो जाएं।

कैसे फायदेमंद है?

बादाम तेल पोषक तत्वों से भरपूर है और इसमें त्वचा की रंगत को निखारने के गुण मौजूद हैं। इसमें एमोलिएंट गुण है, जो त्वचा को नर्म और मुलायम बनाकर रंगत को निखारता है। यह त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से होने वाले नुकसान से भी बचाता है। इसके अलावा, यह त्वचा संबंधी कई समस्याओं को ठीक करता है (5) (6)।

सावधानी : बादाम का तेल दो प्रकार का होता है – कड़वा और मीठा। कड़वे बादाम का तेल अरोमाथेरेपी में उपयोग किया जाता है और इसे त्वचा पर नहीं लगाया जाता। साथ ही इसका सेवन भी नहीं करना चाहिए।

4. डार्क सर्कल्स के लिए ग्रीन टी

वजन कम करना हो, बालों को खूबसूरत बनाना हो या त्वचा में निखार लाना हो, ग्रीन टी किसी चमत्कारी टॉनिक से कम नहीं है। अगर आप डार्क सर्कल से परेशान हैं, तो भी यह गुणकारी साबित हो सकता है।

सामग्री

  • दो ग्रीन टी बैग

लगाने की विधि

  • टी बैग को पानी में डुबोएं और उन्हें फ्रिज में रख दें।
  • अब इन ठंडे टी बैग को अपने आँखों के नीचे रखें और 15 मिनट बाद चेहरे को धो लें।

कब लगाएं?

इसे तब तक लगाएं, जब तक कि आपको अपनी आंखों के नीचे काले घेरों में सुधार नजर न आने लगे।

कैसे फायदेमंद है?

ग्रीन टी में पॉलीफेनोल होता है, जो एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी की तरह काम करता है। ये गुण त्वचा को सूरज की हानिकारक किरणों से बचाते हैं (7) (8)। यहां तक कि इससे स्किन कैंसर का खतरा भी कम हो सकता है (9)। डार्क सर्कल्स तब होते हैं, जब आंखों के नीचे की रक्त वाहिकाएं पतली हो जाती हैं। ग्रीन टी इसे कम करने में मदद करती है, क्योंकि इसमें टैनिन होता है, जिसमें एस्ट्रिंजेंट गुण होते हैं (10)। टैनिन पतली रक्त वाहिकाओं और कोशिकाओं को संकुचित करता हैं और आंखों के नीचे काले घेरे को कम करने में मदद कर सकता है। टैनिन एक तरह से कालेपन को दूर करने का काम करता है (11)।

5. डार्क सर्कल्स के लिए सेब का सिरका

सेब का सिरका कई पोषक तत्वों से भरपूर है और सेहत के लिए फायदेमंद होता है। चाहे वजन कम करना हो, शरीर को डिटॉक्सीफाई करना हो या अन्य कोई स्वास्थ्य संबंधी परेशानी से छुटकारा पाना हो, सेब का सिरका कई मायने में गुणकारी होता है। अगर बात करें त्वचा की, तो यह आपकी त्वचा पर भी काफी अच्छा असर कर सकता है। आप आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के लिए सेब के सिरके का उपयोग कर सकते हैं।

सामग्री

  • एक चम्मच सेब का सिरका
  • रूई

लगाने की विधि

  • रूई को सेब के सिरके में भिगोकर अपने आंखों के काले घेरे पर लगाएं और इसे अपने आप सूखने दें।

कब लगाएं?

आप दिनभर में दो बार इसे लगा सकते हैं।

कैसे फायदेमंद है?

सेब के सिरके में मौजूद मिनरल्स, विटामिन और कई अन्य पोषक तत्व त्वचा को जवां और स्वस्थ रखते हैं। यह आपके त्वचा को टोन करता है और अशुद्धियों को निकालकर त्वचा को साफ भी करता है (12)।

सावधानी : ध्यान रहे कि आपके आंखों में सेब का सिरका न जाए, अगर ऐसा हो तो तुरंत अपनी आंखों को पानी से धो लें।

6. डार्क सर्कल्स के लिए जैतून का तेल

ऑलिव ऑइल या जैतून का तेल आजकल कई घरों में उपयोग किया जा रहा है। यह स्वास्थ्य के लिए तो फायदे है ही साथ ही त्वचा और बालों के लिए भी लाभकारी है। ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर जैतून का तेल गुणों का खजाना है। आप इस तेल को अपने डार्क सर्कल हटाने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं। नीचे हम आपको इसे उपयोग करने का तरीका बता रहे हैं।

सामग्री

  • वर्जिन ऑलिव ऑइल या ऑलिव ऑइल की कुछ बूंदें
  • चुटकीभर हल्दी (वैकल्पिक)

लगाने की विधि

  • रात को कुछ मिनट के लिए जैतून के तेल से अपनी आंखों के आसपास सर्कुलर मोशन में मालिश करें।
  • इसे रातभर के लिए छोड़ दें।

कब लगाएं?

हर रोज रात को सोने से पहले इसे लगाकर सोएं।

कैसे फायदेमंद है?

जैतून के तेल में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद हैं। साथ ही इसमें कई तरह के विटामिन्स, मिनरल्स और अन्य पोषक तत्व भी होते हैं, जो त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं (13)। जैतून तेल के लगातार उपयोग से डार्क सर्कल काफी हद तक कम हो सकते हैं। इतना ही नहीं जैतून का तेल त्वचा की अन्य समस्याओं जैसे सूर्य की हानिकारक किरणों से त्वचा को होने वाली क्षति से भी बचा सकता है। जैतून तेल में मौजूद पोषक तत्व त्वचा के लिए रक्षा कवच की तरह काम कर उसे कई तरह की समस्याओं से बचा सकते हैं  (14) (15)।

7. डार्क सर्कल्स के लिए दूध

दूध न सिर्फ हड्डियों को मजबूत करता है, बल्कि इसके लगातार सेवन से आपकी त्वचा में भी चमक आती है। यह काफी हद तक आपके आंखों के काले घेरों को भी ठीक कर सकता है। जरूरी नहीं आपको दूध पीना ही पड़े, आप दूध को अपनी त्वचा पर लगा भी सकते हैं।

सामग्री

  • एक चौथाई कप ठंडा दूध
  • रूई

लगाने की विधि

  • रूई के गोले को ठंडे दूध में भिगोएं।
  • अब इस दूध में भीगी रूई को अपने डार्क सर्कल पर रखें।
  • इसे 15 मिनट के लिए रखा रहने दें और फिर पानी से धो लें।

कब लगाएं?

दो हफ्ते तक हर रोज एक बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

दूध में लैक्टिक एसिड होता है, जो त्वचा में सुधार लाता है। इसके इस्तेमाल से त्वचा कोमल, मुलायम और निखरी हुई नजर आने लगेगी (16)। यहां तक कि इससे झुर्रियों के लक्षण भी कम हो सकते हैं। इतना ही नहीं अगर आपको रूखी त्वचा की समस्या है, तो भी दूध के सेवन से यह परेशानी दूर हो सकती है (17)। अगर आप मसूर दाल को पीसकर दूध और घी के साथ लगाएंगे, तो भी आपकी रंगत में निखार आ सकता है (18)। इसके अलावा, दूध या दूध से निर्मित अन्य खाद्य पदार्थों के सेवन से त्वचा संबंधी परेशानी जैसे – खुजली (atopic dermatitis) भी कम हो सकती है (19)।

8. डार्क सर्कल्स के लिए आलू

आलू लगभग हर किसी की पसंदीदा सब्जी होती है। किसी भी खाने में जान डालनी हो, उसका स्वाद बढ़ाना हो, तो आलू का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा, यह आपकी त्वचा के लिए भी बहुत लाभकारी हो सकता है। अगर आंखों के नीचे काले घेरे से छुटकारा पाना चाहते हैं, तो आलू से आपको मदद मिल सकती है।

सामग्री

  • एक कच्चा आलू
  • दो रूई के गोले

लगाने की विधि

  • कच्चे आलू को कद्दूकस कर उसका रस निकाल लें।
  • अब इस रस में रूई के गोले को भिगो लें।
  • फिर भीगी हुई रूई को अपनी आंखों के काले घेरे पर रखें।
  • इसे 10 मिनट तक लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।

कब लगाएं?

दो से तीन हफ्तों तक हर रोज दो बार इसे लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

आलू में कई तरह के पोषक तत्व हैं जैसे – विटामिन्स, मिनरल्स, आयरन व एंटीऑक्सीडेंट (20), जो त्वचा के लिए फायदेमंद होते हैं। आलू से आपकी त्वचा पर निखार तो आएगा ही साथ ही आपके डार्क सर्कल कम हो सकते हैं। आप आलू के रस के साथ खीरे का रस मिलाकर भी लगा सकते हैं (21)।

9. डार्क सर्कल्स के लिए टी बैग या चाय का पानी

चाय पीना लगभग हर किसी को पसंद है। कई लोगों की तो चाय के बिना दिन की शुरुआत ही नहीं होती है। वहीं, चाय त्वचा के लिए भी फायदेमंद है। आप बिना चाय पीये ही अपने चेहरे पर निखार ला सकते हैं और डार्क सर्कल को कम कर सकते हैं। यकीन नहीं होता तो नीचे लिखे नुस्खे को पढ़ें।

सामग्र

  • एक या दो चम्मच चाय पत्ती (आवश्यकतानुसार)
  • या एक टी बैग
  • पानी
  • रूई

लगाने की विधि

  • चाय पत्ती को पानी में डालकर थोड़ी देर उबाल लें।
  • फिर पानी ठंडा होने के बाद उसे रूई की मदद से आंखों के नीचे काले घेरे पर लगाएं।
  • इसके अलावा, आप टी बैग को भिगोकर थोड़ी देर फ्रिज में रख दें और बाद में ठंडे टी बैग को अपनी आंखों के नीचे रगड़ें।
  • थोड़ी देर इसे लगा रहने दें और बाद में पानी से चेहरा धो लें।

कब लगाएं?

आप रोज नियमित रूप से दिनभर में एक से दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

लगभग हर चाय में कैफीन होता है, जो रक्त वाहिकाओं को सिकुड़कर टिश्यू में किसी भी प्रकार के द्रव्य को जाने से रोकता है। इससे डार्क सर्कल होने का खतरा कम होता है। साथ ही कैफीन में विटामिन-के भी होता है, जो न सिर्फ त्वचा के लोच में सुधार करता है, बल्कि डार्क सर्कल को भी कम करता है (22)। लगभग हर चाय में कैफीन होता है (23)।

10. डार्क सर्कल्स के लिए शहद

सेहत के लिए तो शहद के कई फायदे हैं, लेकिन शायद कुछ ही लोग जानते होंगे कि शहद त्वचा के लिए भी कितना लाभकारी है। जब बात आए आंखों के नीचे कालापन दूर करने की तब भी शहद बहुत ही गुणकारी हो सकता है।

सामग्री

  • एक चम्मच शहद

लगाने की विधि

  • दोनों आंखों के नीचे काले घेरे पर शहद की एक पतली परत लगा लें
  • इसे 15 से 20 मिनट तक लगा रहने दें और फिर पानी से धो लें।

कब लगाएं?

आप हर रोज इसे एक से दो बार लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

शहद एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स व मिनरल्स जैसे पौष्टिक तत्वों का खजाना है। यह त्वचा के लिए भोजन की तरह काम कर सकता है (24)।इसके नियमित उपयोग से त्वचा संबंधी कई समस्याएं कम हो सकती है। शहद त्वचा को साफ करने का काम करता है और त्वचा में निखार ला सकता है (25)। इतना ही नहीं शहद में एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण मौजूद होते हैं, जो स्किन कैंसर के जोखिम को कम करने में सहायक हो सकते हैं (26)। फिलहाल, इस विषय में अभी और शोध की आवश्यकता है, लेकिन शहद त्वचा को नर्म और मुलायम भी बना सकता है। यह घावों व चोटों से भी आराम देता है। यह त्वचा को हाइड्रेट रखता है और पीएच स्तर को बनाए रख सकता है (24)।

11. डार्क सर्कल्स के लिए ग्रेपसीड ऑयल

ग्रेपसीड ऑयल यानी अंगूर के बीज के तेल के बारे में हो सकता है कई लोगों को पता न हो, लेकिन इसके भी हमारे स्वास्थ्य और त्वचा के लिए कई फायदे हैं। जैसे अंगूर हमारी त्वचा में चमक लाता है, वैसे ही इसके बीज का तेल भी त्वचा के लिए लाभकारी है।

सामग्री

  • दो से तीन बूंद ग्रेपसीड ऑयल

लगाने की विधि

  • तेल को आराम-आराम से अपने आंखों के नीचे काले घेरे पर लगाकर छोड़ दें।

कब लगाएं?

आप हर रोज दो बार इसे लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

अंगूर के तेल में फ्लेवोनोइड्स और प्रोएन्थोसायनिडिन्स होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट व एंटीइंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होते हैं (27)। इसमें मौजूद विटामिन-ई त्वचा के लिए लाभकारी है और इसके पोषक तत्व त्वचा संबंधी परेशानियों को कम करने के साथ-साथ घाव, जलन और अन्य समस्याओं को कम कर सकते हैं (28) (29) (30)। साथ ही यह आपके डार्क सर्कल के उपाय में भी काम आ सकता है। हालांकि, ग्रेपसीड ऑयल का उपयोग त्वचा पर कितना असरदार है, इसका अभी तक कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है, लेकिन व्यक्तिगत अनुभवों के आधार पर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर आपको तेल लगाना पसंद नहीं है, तो आप अंगूर व अंगूर से बने पदार्थ खा भी सकते हैं। इससे न सिर्फ त्वचा में कसावट आ सकती है, बल्कि इससे कोलेजन उत्पादन को भी बढ़ावा मिल सकता है। साथ ही यह सेहत के लिए भी लाभकारी हो सकता है।

12. डार्क सर्कल्स के लिए पुदीना

पुदीना न सिर्फ सेहत के लिए फायदेमंद है, बल्कि आपकी त्वचा का भी खूब ख्याल रखता है। जब बात आए आंखों के नीचे कालापन दूर करने की, तो पुदीना बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है, बस जरूरी है सही तरीके से उपयोग करने की।

सामग्री

  • कुछ पुदीने के पत्ते

लगाने की विधि

  • पुदीने के पत्तों को पानी के साथ पीसकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को आंखों के काले घेरे पर लगाकर 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर ठंडे पानी से धो लें।

कब लगाएं?

हर रोज रात को सोने से पहले इसे लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

पुदीने की पत्तियां विटामिन-सी से भरपूर होती हैं, जो काले घेरे का इलाज करने और त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार करने में मदद करती हैं (31)। पुदीना न सिर्फ डार्क सर्कल को कम करने में मदद करेगा, बल्कि यह आपके आंखों को ठंडक भी प्रदान करेगा, क्योंकि पुदीने की तासीर ठंडी होती है (21)।

सावधानी : जरूरी नहीं कि पुदीना हर किसी की त्वचा को सूट करे। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है, तो पुदीने से एलर्जी या रैशेज हो सकते हैं, इसलिए इसे लगाने से पहले पैच टेस्ट कर लें।

13. डार्क सर्कल्स के लिए नींबू का रस

चिलचिलाती धूप और गर्मी के बाद नींबू पानी किसी अमृत से कम नहीं लगता है। इसके अलावा वजन घटाना हो या इम्यूनिटी को बढ़ाना हो नींबू या नींबू का जूस हर मायने में फायदेमंद होता है। ठीक उसी तरह नींबू डार्क सर्कल के लिए भी असरदार साबित हो सकता है।

सामग्री

  • नींबू का रस
  • रूई के गोले

लगाने की विधि

  • रूई को नींबू के रस में भिगोकर अपने आंखों के नीचे काले घेरे पर लगाएं।
  • इसे 10 से 15 मिनट के लिए लगा रहने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।

कब लगाएं?

हर रोज दो बार इसे लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

जैसा कि आप पहले से ही जानते होंगे कि नींबू के रस में त्वचा में चमक लाने वाले गुण होते हैं (32)।इसमें मौजूद विटामिन-सी एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है। यह सिट्रस फल है, इसलिए यह त्वचा पर निखार लाकर उसे जवां बनाने में मदद कर सकता है (33)। आप नींबू के रस में टमाटर का जूस मिलाकर भी अपने डार्क सर्कल पर लगा सकते हैं।

14. डार्क सर्कल्स के लिए खीरा

जब बात आए सलाद की, तो खीरे का जिक्र जरूर होता है। खीरा न सिर्फ पौष्टिक होता है, बल्कि गर्मियों में इसके सेवन से आपका शरीर ठंडा रहता है। यही खीरा आपकी खूबसूरती को भी बढ़ा सकता है। कई बार आपने लोगों को खीरे के गोल टुकड़े अपने आंखों पर रखते देखा होगा। ऐसा इसलिए किया जाता है, ताकि आपकी आंखों को आराम मिले। साथ ही डार्क सर्कल को भी कम किया जा सके।

सामग्री

  • एक खीरा

लगाने की विधि

  • खीरे को गोल मोटे टुकड़ों में काटकर आधे घंटे के लिए फ्रिज में रख दें।
  • अब दो टुकड़ों को लेकर अपने आंखों पर रख लें। ध्यान रहे कि आपके आंखों के नीचे काले घेरे खीरे से ढक जाएं।
  • इसे 10 मिनट के लिए रहने दें और फिर ठंडे पानी से आंखों को धो लें।

कब लगाएं?

एक हफ्ते तक हर रोज दो बार ऐसा करें।

कैसे फायदेमंद है?

खीरे में कई एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं (34), जो आंखों के नीचे काले घेरे को कम करने में मदद करते हैं और आंखों को ठंडक देते हैं। आप खीरे के रस को रूई में भिगोकर भी डार्क सर्कल्स पर लगा सकते हैं (35), ये आंखों में होने वाले जलन से भी छुटकारा दिलाएगा।

15. डार्क सर्कल्स के लिए केसर

स्वास्थ्य के लिए केसर के फायदे तो लगभग सभी को पता होंगे, लेकिन यह त्वचा के लिए भी लाभकारी होता है। इसे कई वर्षों से रंगत में निखार लाने के लिए उपयोग किया जाता रहा है और आप इसे डार्क सर्कल कम करने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।

सामग्री

  • एक चौथाई कप दूध
  • एक से दो केसर के रेशे
  • रूई का गोला

लगाने की विधि

  • केसर के रेशे को दूध में कुछ देर के लिए भिगोकर रखें।
  • कुछ मिनट बाद उस दूध में रूई के गोले को भिगोकर अपनी आंखों के काले घेरे पर लगाएं। आप इस दूध को अपने पूरे चेहरे पर भी लगा सकते हैं।
  • इसे लगाकर 10 से 15 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • फिर इसे ठंडे पानी से धो लें।

कब लगाएं?

आप इसे हर रोज लगाएं

कैसे फायदेमंद है?

केसर को कई सालों से रंगत में निखार लाने के लिए उपयोग किया जाता आ रहा है। इस बात को विभिन्न परीक्षणों के जरिए भी साबित किया गया है (36)। इसके लिए केसर में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण जिम्मेदार है। इसके अलावा, यह काफी हद तक आपकी त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से भी बचाता है (37)। यहां तक कि केसर हर्बल औषधि की तरह भी काम करता है (38)।

16. आंखों के नीचे कालापन दूर करने के लिए नारियल तेल

नारियल तेल को वर्षों से खाना बनाने या फिर बालों में लगाने के लिए प्रयोग किया जा रहा है। यह गुणों और पोषक तत्वों का खजाना है। आप इसे अपने काले घेरे हटाने के उपाय के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

सामग्री

  • नारियल तेल की कुछ बूंदें

लगाने की विधि

  • रात को सोने से पहले अपनी आंखों के नीचे काले घेरे पर उंगलियों से नारियल तेल लगाएं।
  • फिर क्लॉकवाइज और एंटीक्लॉकवाइज हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • रातभर लगा रहने दें।

कब लगाएं?

हर रोज रात को सोने से पहले इसे लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

नारियल तेल के पौष्टिक और मॉइस्चराइजिंग गुण त्वचा को स्वस्थ रख सकते हैं और इसके मालिश से आंखों के नीचे के काले घेरे भी कम हो सकते हैं । दरअसल, इसमें हीलिंग यानी घाव को भरने के गुण मौजूद होते हैं। ऐसे में त्वचा पर किसी प्रकार के क्षति या चोट के बाद डार्क सर्किल हुए हैं, तो हो सकता है नारियल तेल उपयोगी हो, लेकिन इस बारे में अभी और स्टडी की जरूरत है।

वहीं, डॉक्टरों का कहना है कि नारियल तेल से त्वचा के रोमछिद्र खुल सकते हैं और आंखों के चारों ओर मिलिया (आंखों के आसपास सफेद दाने) पैदा करने वाले ग्रंथियों पर भी प्रभावकारी हो सकता है। यहां तक कि नारियल तेल त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से भी बचा सकता है और त्वचा संक्रमण या जलन से भी बचाव या त्वचा को आराम दे सकता है (4) (39)। ध्यान रहे कि नारियल तेल का उपयोग सीमित मात्रा में ही किया जाए, क्योंकि यह रोमछिद्रों को बंद करता है और आंखों के आसपास मिलिया (आंखों के आसपास सफेद दाने) पैदा कर सकता है।

17. आंखों के नीचे कालापन दूर करने के लिए एलोवेरा

एलोवेरा का छोटा-सा पौधा गुणों का खजाना है। यह कई बीमारियों में रामबाण का काम करता है। कोई अपने इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर करने के लिए, तो कोई पाचन शक्ति को ठीक करने के लिए इसका प्रयोग करता है। सेहत के अलावा त्वचा और बालों पर भी एलोवेरा अच्छा असर करता है। आप आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के लिए भी एलोवेरा का उपयोग कर सकते हैं।

सामग्री

  • ताजा एलोवेरा जेल
  • रूई

लगाने की विधि

  • एलोवेरा जेल को अपने आंखों के नीचे काले घेरे पर लगाकर हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसे 10 से 12 मिनट के लिए लगा रहने दें, फिर भीगे हुए रूई के गोले से इसे पोंछ दे।

कब लगाएं?

आप हर रोज सुबह रात को सोने से पहले लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

एलोवेरा त्वचा को हाइड्रेट करता है और उसे आराम देता है। इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व न सिर्फ त्वचा के लिए एंटीसेप्टिक के तौर पर काम करते हैं, बल्कि सूर्य की हानिकारक किरणों से भी बचाते हैं। साथ ही आंखों के नीचे काले घेरे को भी कम कर सकते हैं। इसमें विटामिन-ई मौजूद होता है और यह त्वचा को किसी भी प्रकार के क्षति से बचाकर उसे स्वस्थ रखता है (40)।

18. आंखों के नीचे कालापन दूर करने के लिए आर्गन का तेल

‘लिक्विड गोल्ड’ के नाम से जाना जाने वाला आर्गन तेल त्वचा और बालों के लिए गुणों का खजाना है। यह बालों और त्वचा पर जादुई तरीके से काम करता है। नीचे हम इसी के बारे में बता रहे हैं।

सामग्री

  • आर्गन तेल की कुछ बूंदें

लगाने की विधि

  • अपनी आंखों के नीचे काले घेरे पर इसे उंगलियों से लगाएं।
  • त्वचा में तेल के अवशोषण को बढ़ाने के लिए हल्के से टैप करें
  • ध्यान रहे कि इसे धोये नहीं।

कब लगाएं?

हर रोज रात को सोने से पहले लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

आर्गन ऑयल एक बहुत हल्का तेल है, जो त्वचा में आसानी से समा जाता है। इसमें विटामिन-ई और एंटीऑक्सीडेंट है, जो आंखों के नीचे त्वचा के ऊतकों को ठीक करता है। साथ ही त्वचा की प्राकृतिक चमक और निखार को बरकरार रखता है। यह झुर्रियों और फाइन लाइन्स को कम कर सकता है। यह त्वचा को कई तरह के संक्रमण से भी बचाता है (4) (41)।

19. आंखों के नीचे कालापन दूर करने के लिए अरंडी तेल

मुख्य रूप से बालों और त्वचा के लिए उपयोग किया जाने वाला अरंडी का तेल आपके डार्क सर्कल को भी काफी हद तक कम कर सकता है। बस जरूरत है, तो इसे सही तरीके से उपयोग करने की।

सामग्री

  • अरंडी का तेल

लगाने की विधि

  • रात को सोने से पहले अरंडी तेल को अपनी आंखों के नीचे काले घेरे पर लगाकर रातभर के लिए छोड़ दें।

कब लगाएं?

हर रोज रात को सोने से पहले लगाएं।

कैसे फायदेमंद है?

अरंडी का तेल त्वचा को नरम और कंडीशन करता है। यह आंखों के नीचे की बेजान त्वचा को फिर से जवां बनाता है और काफी हद तक आंखों के नीचे काले घेरे को कम कर सकता है। यहां तक कि यह रैशेज या छोटे-मोटे चोट या घाव होने पर भी आराम दिला सकता है (42)।

डार्क सर्कल्स का इलाज – Medical treatments for Dark Circles in Hindi

आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के लिए ऊपर हमने आपको कई घरेलू उपाय बताएं, लेकिन अगर आपकी आंखों के काले घेरे घरेलू उपायों को आजमाने के बाद भी नहीं जा रहे हैं, तो इसका मतलब आपको डॉक्टर को दिखाने की जरूरत है। यहां हम आपको डार्क सर्कल्स के कुछ इलाज भी बता रहे हैं, जिसके बारे में आप अपने डॉक्टर से बात कर सकते हैं।

1. केमिकल यानी रासायनिक पीलिंग

आजकल त्वचा की खूबसूरती को बढ़ाने के लिए कई तरह के तकनीक आ चुकी हैं। केमिकल यानी रासायनिक पीलिंग उन्हीं में से एक है। इस विधि का उपयोग दाग-धब्बों, झाइयों, झुर्रियों और यहां तक कि डार्क सर्कल को ठीक करने के लिए भी किया जा सकता है। इसमें रासायनिक पदार्थ जैसे – लैक्टिक एसिड का उपयोग किया जाता है। इसके जरिए त्वचा पर बिना किसी कट या चीरा के इलाज किया जा सकता है। यह आमतौर पर काले घेरे के लिए उपयोग किया जाता है और रंजकता (pigmentation) की गहराई के आधार पर इसमें सेशंस लेने की आवश्यकता हो सकती है।

कैसे लाभकारी है?

यह इलाज आमतौर पर एक त्वचा विशेषज्ञ और एनेस्थेटिस्ट द्वारा किया जाता है। केमिकल पील में आंखों के आसपास की त्वचा के ऊपरी परत को, जो बेजान और क्षतिग्रस्त हो चुकी होती है, उसे निकाल देता है। जब यह परत हट जाती है, तो आपकी त्वचा फिर से जवां और स्वस्थ दिखने लगती है।

आर्गी पील (Argi peel) ट्रीटमेंट

आर्गी पील (Argi peel) नए तरह का केमिकल पील है, जिसमें आर्गिनिन (arginine), एलांटोइन (allantoin), एलोवेरा और लैक्टिक एसिड होता है। इसमें मौजूद आर्गिनिन एक प्रकार का एमिनो एसिड है, जो ब्राउन शुगर से प्राप्त होता है। यह कोलेजन (यह शरीर और त्वचा के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है) व त्वचा की इलास्टिसिटी को बढ़ाता है और त्वचा को मॉइस्चराइज भी करता है। इस प्रक्रिया में लैक्टिक एसिड मुख्य एक्सफोलिएट पदार्थ है, जो मुख्य भूमिका निभाता है और हाइपरपिगमेंटेशन को कम करने में मदद करता है (43)। वहीं, एलोवेरा और एलांटोइन (एक तरह का रासायनिक यौगिक) त्वचा को मॉइस्चराइज कर मुलायम बनाते हैं। इसे विटामिन-सी और मैट्रिक्स (matrixyl) के साथ मिलाकर उपयोग किया जाता है, जो आंख के आसपास की त्वचा में कसाव लाता है और स्वस्थ बनाता है।

उपचार की अवधि

अब सवाल यह उठता है कि इस इलाज में कितना वक्त लगता है। उपचार की अवधि इस पर निर्भर करती है कि आप किस प्रकार का उपचार करा रहे हैं, सतही (superficial), मध्यम (medium) या गहरा पील (deep peel)। कई बार यह डॉक्टर पर भी निर्भर करता है, क्योंकि हर डॉक्टर का तरीका अलग होता है और जो व्यक्ति इलाज करा रहा है, उसके स्वास्थ्य पर भी निर्भर करता है।

सुपरफिशियल पील में सबसे कम वक्त लगता है। इसमें व्यक्ति को चिकित्सालय में रुकना नहीं पड़ता, रिकवरी जल्दी होती है और आप अपनी सामान्य गतिविधियां भी शुरू कर सकते हैं।

मीडियम पील की प्रक्रिया में लगभग 40 मिनट लगते हैं और इसमें रिकवरी होने में पांच से सात दिन लग जाते हैं।

डीप पील की प्रक्रिया में लगभग 60 से 90 मिनट लगते हैं और रिकवरी होने में लगभग 10 से 14 दिन तक लग सकते हैं।

2. इंटेंस पल्स लाइट ट्रीटमेंट

इंटेंस पल्स लाइट ट्रीटमेंट त्वचा विषेशज्ञों द्वारा की जाने वाली तकनीक है, जिसमें किसी भी सर्जरी की जरूरत नहीं होती है। यह तकनीक चेहरे के अनचाहे बालों को हटाने, सूर्य की हानिकारक किरणों से त्वचा को हुए नुकसान को ठीक करने, दाग-धब्बों को हटाने, त्वचा की रंगत को हल्का करने और कई अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। यह प्रक्रिया थोड़ी बहुत लेजर उपचार से मिलती-जुलती होती है, क्योंकि दोनों में ही लाइट का उपयोग किया जाता है।

कैसे लाभकारी है?

इंटेंस पल्स लाइट ट्रीटमेंट आंखों के नीचे काले घेरे को कम करता है, क्योंकि यह उन कोशिकाओं को नष्ट कर देता है, जो त्वचा की रंगत को खराब करने का काम करते हैं। यह आंखों के नीचे की त्वचा को भी चिकना करता है। इस उपचार में दाग-धब्बों को कम करने के लिए उच्च ऊर्जा वाले लाइट वेव का उपयोग किया जाता है। इस उपचार सेरक्त वाहिकाएं संकुचित हो जाती हैं, नतीजतन दाग-धब्बे कम होने लगते है और रंगत में सुधार आने लगता है।

उपचार की अवधि

आईपीएल उपचार काले घेरे के लिए सबसे प्रभावी उपचारों में से एक है, लेकिन यह थोड़ा आपके जेब पर भारी पड़ सकता है, क्योंकि यह दूसरे उपचारों की तुलना में थोड़ा महंगा है। अच्छे परिणाम के लिए व्यक्ति को कई सेशन के लिए बैठने की जरूरत होती है। हर एक सत्र कम से कम एक घंटे तक चल सकता है। इसके अलावा, यह उपचार आपके डार्क सर्कल, स्वास्थ्य और जीवनशैली पर निर्भर करता है।

3. लेजर ट्रीटमेंट

लेजर ट्रीटमेंट में आपके आंखों की नीचे की त्वचा को चुन कर उनका इलाज किया जाता है। यह भी दाग-धब्बों, डार्क सर्कल, अनचाहे बाल और कई त्वचा संबंधी परेशानियों से निजात पाने के लिए किया जाता है। इस उपचार के बाद आपके आंखों के नीचे की त्वचा कोमल और मुलायम तो हो ही जाती है, बल्कि साथ ही त्वचा की रंगत भी निखरने लगती है।

कैसे लाभकारी है?

लेजर ट्रीटमेंट कई तरह के होते हैं और यह आपके दाग-धब्बों पर निर्भर करता है कि आपको किस तरह की लेजर ट्रीटमेंट की जरूरत है। लेजर ट्रीटमेंट में वेवलेंथ बनाने के लिए कई बार अल्ट्रावॉयलेट या इंफ्रारेड अदृश्य लाइट का इस्तेमाल किया जाता है, जो त्वचा के पार जाते ही ऊर्जा छोड़ते हैं। ऊर्जा त्वचा की परतों के माध्यम से अवशोषित होती है और डार्क सर्कल का कारण बनने वाले काले व अनियमित पिगमेंटेशन को ठीक करती है।

उपचार की अवधि

व्यक्ति को प्रक्रिया पूरी होने के बाद हॉस्पिटल या क्लिनिक में रुकने की जरूरत नहीं होती है। इसे एक घंटे के भीतर किया जा सकता है। हालांकि, तुरंत व्यक्ति को फर्क नहीं पता चलता है, इसके लिए तीन से छह सेशन लेने की जरूरत होती है।

4. सर्जरी

आपको जानकर हैरानी हो सकती है, लेकिन काले घेरे हटाने के उपाय के लिए सर्जरी भी की जाती है। डार्क सर्कल्स या पफी आइज यानी आंखों के नीचे की वसा को हटाने के लिए आंखों की सर्जरी को ब्लेफेरोप्लास्टी (blepharoplasty) या आईलिड सर्जरी के रूप में जाना जाता है। इसे प्लास्टिक सर्जन द्वारा किया जाता है।

कैसे लाभकारी है?

इस उपचार में आंखों के नीचे जमे हुए वसा को हटा दिया जाता है, जिसके परिणामस्वरूप आंखों के नीचे की सूजन व रंगत में सुधार आता है और आंखें खूबसूरत लगने लगती है।

उपचार की अवधि

इस उपचार की प्रक्रिया एक से तीन घंटे की हो सकती है। साथ ही इस सर्जरी से उबरने में कुछ हफ्ते लग सकते हैं।

डार्क सर्कल के लिए कुछ और उपाय – Other Tips For Dark Circles in Hindi

आंखों के नीचे काले घेरे हटाने के लिए सिर्फ घरेलू उपाय और इलाज की जरूरत नहीं होती, बल्कि आपको अपने जीवनशैली और रूटीन में बदलाव करना होता है। आपकी जैसी जीवनशैली होती है, उसी का असर आपकी त्वचा और चेहरे पर पड़ता है। इसलिए, नीचे हम आंखों के काले घेरे हटाने के कुछ सामान्य उपाय बता रहे हैं।

1. आहार या आपकी डाइट

आपकी त्वचा इस बात का प्रतिबिंब है कि आपकी डाइट कैसी है, इसलिए अपने आहार में ज्यादा से ज्यादा हेल्दी चीजों को शामिल करें। ऐसे चीजों का सेवन करें, जो आपको पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व जैसे – विटामिन्स, मिनरल्स, आयरन व प्रोटीन। नीचे हम ऐसे ही कुछ चीजों के बारे में आपको बता रहे हैं।

  • सब्जियों में आप ब्रोकोली, पालक, शकरकंद, शिमला मिर्च, गाजर व टमाटर खा सकते हैं। इसके साथ ही आप अपने रोज के खाने के साथ सलाद का सेवन भी कर सकते हैं।
  • वहीं, फलों में पपीता, संतरा, केला, स्ट्रॉबेरी, अनार और कई दूसरे फलों का भी सेवन कर सकते हैं।
  • अगर आप मांसाहारी हैं, तो मीट-मछली, चिकन या अंडे को भी अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।
  • सिर्फ फल और सब्जियां ही नहीं आप ड्राई फ्रूट्स जैसे – काजू व बादाम आदि का भी सेवन करें।
  • इन सबके अलावा अगर आप अपने वजन को लेकर थोड़े भी सतर्क हैं, तो खाने में ब्राउन राइस खाएं।
  • खाने में दाल, दूध, स्प्राउट्स, दलीया और कई अन्य पौष्टिक चीजों का सेवन करें।

जरूरी विटामिन का सेवन

विटामिन-के का सेवन भी आपके डार्क सर्कल के लिए फायदेमंद हो सकता है। विटामिन-के आपके स्वस्थ रक्त प्रवाह के लिए आवश्यक है। जब आपके आंखों के नीचे की त्वचा में पोषक तत्वों के साथ सही तरीके से रक्त प्रवाह होगा, तो आपको काले घेरों के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं होगी। साथ ही यह त्वचा पर होने वाले किसी भी प्रकार के घाव को भी ठीक कर सकता है (44)।

विटामिन सी एक और मुख्य विटामिन है, जो आपकी त्वचा को स्वस्थ और चमकदार बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इन्फ्लेमेटरी और कोलेजन बढ़ाने वाले गुण होते हैं। यह त्वचा की रंगत को हल्का कर सकता है, त्वचा पर धूप के हानिकारक प्रभाव को कम कर सकता है और कई अन्य त्वचा संबंधी परेशानियों से छुटकारा दिला सकता है। साथ ही यह एंटी-एजिंग प्रभाव भी डालता है (43) (45) (46)।

वहीं, विटामिन ई आपकी त्वचा को हाइड्रेट व स्वस्थ रखता है (47)।

अगर आपको फल या सब्जियों का सेवन करना नहीं पसंद, तो आप जूस का सेवन कर सकते हैं। जूस जरूरी पोषक तत्वों के सेवन का एक आसान तरीका है। नीचे हम एक हेल्दी जूस की रेसिपी भी आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

सामग्री

  • दो हरे सेब
  • आधा खीरा
  • दो से तीन अजवाइन की डंठलें (celery stalks)
  • एक कप अजमोद (parsley)
  • एक नींबू का रस

बनाने की विधि

  • सभी सामग्रियों को मिलाकर जूस बना लें।
  • फिर सामान्य तापमान पर या ठंडा करके पिएं।
  • आप अपने पसंद के किसी अन्य फल या सब्जी को भी शामिल कर सकते हैं।

तनाव – आजकल के इस तेज रफ्तार जिंदगी में लोगों के पास कई काम है और इन्हीं वजहों से तनाव भी बहुत है। आंखों के नीचे काले घेरे होने का एक मुख्य कारण तनाव भी है, इसलिए जितना हो सके तनाव से दूर रहें। बेशक, आज के जमाने में यह असंभव है, लेकिन आप इसे कम करने का प्रयास जरूर कर सकते हैं।

पूरी नींद – जाहिर सी बात है अगर तनाव होगा, तो नींद में परेशानी होगी। नींद पूरी न होने से भी डार्क सर्कल की समस्या होती है और आपका चेहरा बेजान लगने लगता है। इसलिए, पूरी नींद लेना जरूरी है। देर रात तक टीवी या फोन का उपयोग न करें ।

योग या ध्यान – तनाव कम करने के लिए और अच्छी नींद लेने के लिए योग व ध्यान यानी मेडिटेशन करना बहुत जरूरी है। इससे न सिर्फ आपका मन शांत होगा और आपको नींद अच्छी आएगी, बल्कि आपके चेहरे पर चमक आने के साथ-साथ आपकी सेहत भी अच्छी रहेगी। आप योग में प्राणायाम, सूर्य नमस्कार और कई अन्य तरह के योग कर सकते हैं।

शराब या धूम्रपान से दूरी – शराब या अत्यधिक धूम्रपान करने से भी आंखों के नीचे काले घेरे होते हैं, इसलिए जितना हो सके इन चीजों से दूर रहें।

आंखों के नीचे काले घेरे होने से न सिर्फ चेहरे की खूबसूरती कम होने लगती है, बल्कि व्यक्तित्व पर भी असर पड़ता है। डार्क सर्कल्स किसी के लिए भी चिंता कारण हो सकता है, लेकिन अब जब आप इस लेख के जरिए डार्क सर्कल के उपाय जान गए हैं, तो आप आसानी से इनका समाधान कर सकते हैं। सही डाइट और जीवनशैली के साथ इन्हें आजमाएं और इस लेख को अन्य लोगों के साथ भी शेयर करें।

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Discovering the link between nutrition and skin aging
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3583891/
  2. An Update on the Health Effects of Tomato Lycopene
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3850026/
  3. Tomatoes protect against development of UV-induced keratinocyte carcinoma via metabolomic alterations
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5506060/
  4. Antioxidant and potential anti-inflammatory activity of extracts and formulations of white tea, rose, and witch hazel on primary human dermal fibroblast cells
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3214789/
  5. Anti-Inflammatory and Skin Barrier Repair Effects of Topical Application of Some Plant Oils
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5796020/
  6. The uses and properties of almond oil
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/20129403/
  7. Protective Mechanisms of Green Tea Polyphenols in Skin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3390139/
  8. Green Tea And Skin
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/10926734/
  9. Skin photoprotection by green tea: antioxidant and immunomodulatory effects
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12871030/
  10. Green Tea Extract
    https://www.urmc.rochester.edu/encyclopedia/content.aspx?contenttypeid=19&contentid=greenteaextract
  11. Tannins, Peptic Ulcers and Related Mechanisms
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3317710/
  12. WHAT DOES APPLE CIDER VINEGAR NOT DO?
    https://www.pacificcollege.edu/news/blog/2015/04/25/what-does-apple-cider-vinegar-not-do
  13. Potential Health Benefits of Olive Oil and Plant Polyphenols
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5877547/
  14. Protective effect of topically applied olive oil against photocarcinogenesis following UVB exposure of mice
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/11062172/
  15. Virgin olive oil as a fundamental nutritional component and skin protector
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19167997/
  16. Epidermal and dermal effects of topical lactic acid
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/8784274/
  17. A novel mechanism for improvement of dry skin by dietary milk phospholipids: Effect on epidermal covalently bound ceramides and skin inflammation in hairless mice
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25816721/
  18. INTERNATIONAL RESEARCH JOURNAL OF PHARMACY SKIN CARE IN AYURVEDA: A LITERARY REVIEW
    https://www.researchgate.net/publication/282877620_INTERNATIONAL_RESEARCH_JOURNAL_OF_PHARMACY_SKIN_CARE_IN_AYURVEDA_A_LITERARY_REVIEW
  19. Supplementation of a dairy drink enriched with milk phospholipids in patients with atopic dermatitis – A double-blind, placebo-controlled, randomized, cross-over study
    https://www.researchgate.net/publication/260029333_Supplementation_of_a_dairy_drink_enriched_with_milk_phospholipids_in_patients_with_atopic_dermatitis_-_A_double-blind_placebo-controlled_randomized_cross-over_study
  20. Potato Production, Usage, and Nutrition–A Review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24925679/
  21. “How To Get Rid of Dark Circles” Tips
    https://books.google.co.in/books?id=mwujBAAAQBAJ&pg=PT62&dq=potato+dark+circles&hl=en&sa=X&ved=0ahUKEwiusMaXlcfgAhXFGaYKHdMiBCcQ6AEIKDAA#v=onepage&q=potato%20dark%20circles&f=false
  22. Evaluation of the clinical efficacy and safety of an eye counter pad containing caffeine and vitamin K in emulsified Emu oil base
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4300604/
  23. Caffeine content of brewed teas
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19007524/
  24. Honey in dermatology and skin care: a review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24305429/
  25. Honey: A Therapeutic Agent for Disorders of the Skin
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5661189/
  26. Honey: A Therapeutic Agent for Disorders of the Skin
    https://www.researchgate.net/publication/305890170_Honey_A_Therapeutic_Agent_for_Disorders_of_the_Skin
  27. Recent Advances and Uses of Grape Flavonoids as Nutraceuticals
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3916869/
  28. The Topical Effect of Grape Seed Extract 2% Cream on Surgery Wound Healing
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4802053/
  29. The topical effect of grape seed extract 2% cream on surgery wound healing
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/25948437/
  30. Anti-Inflammatory and Skin Barrier Repair Effects of Topical Application of Some Plant Oils
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5796020/
  31. Effects of vitamin C on dark circles of the lower eyelids: quantitative evaluation using image analysis and echogram
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/19626722/
  32. The Hunt for Natural Skin Whitening Agents
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2801997/
  33. Antioxidant and anti-ageing activities of citrus-based juice mixture
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26471635/
  34. Phytochemical and therapeutic potential of cucumber
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23098877/
  35. EVALUATING THE POTENTIAL BENEFITS OF CUCUMBERS FOR IMPROVED HEALTH AND SKIN CARE
    https://www.jarlife.net/3050-evaluating-the-potential-benefits-of-cucumbers-for-improved-health-and-skin-care.html#:~:text=Aside%20from%20their%20cooling%20effect,for%20reducing%20inflammation%20(3).
  36. Clinical Applications of Saffron (Crocus sativus) and its Constituents: A Review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/24848002/
  37. Does Saffron Have Antisolar and Moisturizing Effects?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3862060/
  38. Saffron: A Herbal Medicine of Third Millennium
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3957135/
  39. Effect of topical application of virgin coconut oil on skin components and antioxidant status during dermal wound healing in young rats
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/20523108/
  40. ALOE VERA: A SHORT REVIEW
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2763764/
  41. Benefits of Argan Oil on Human Health—May 4–6 2017, Errachidia, Morocco
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5535876/
  42. Castor Oil
    https://books.google.co.in/books?id=k443DwAAQBAJ&pg=PA205&dq=castor+oil+dark+circles&hl=en&sa=X&ved=0ahUKEwiprNf8hsrgAhULUrwKHXapBqAQ6AEILTAB#v=onepage&q=castor%20oil%20dark%20circles&f=false
  43. The Roles of Vitamin C in Skin Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5579659/
  44. Topical vitamin K1 promotes repair of full thickness wound in rat
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4118534/
  45. Vitamin C in dermatology
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3673383/
  46. Topical Vitamin C and the Skin: Mechanisms of Action and Clinical Applications
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5605218/
  47. Vitamin E and Skin Health
    https://lpi.oregonstate.edu/mic/health-disease/skin-health/vitamin-E#reference93

और पढ़े:

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Dr. Suvina Attavar
Dr. Suvina Attavar - I have a thirst for learning and a passion for Dermatology, Cosmetology and hair transplantation. I am well versed with lasers, chemical peels, and other minor dermatologic procedures. I have been doing hair transplants since 2018.

Read full bio of Dr. Suvina Attavar