Written by , (एमए इन मास कम्युनिकेशन)

पुदीने से बनी चटपटी चटनी तो आपने खाई ही होगी। साथ ही आपने पुदीने के कई स्वास्थ्य लाभ भी पढ़े ही होंगे। मगर, क्या आप जानते हैं कि पुदीना त्वचा से जुड़ी समस्याओं को भी दूर कर सकती है! अगर नहीं, तो कोई बात नहीं। स्टाइलक्रेज का यह लेख पुदीना फेस पैक के बारे में जानने में मदद करेगा। इस लेख में हमने पुदीना फेस पैक के फायदे के साथ ही इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं, इसकी भी जानकारी दी है। तो आइये लेख में आगे बढ़कर पुदीना फेस पैक के फायदे विस्तार से जानते हैं।

शुरू करते हैं लेख

सबसे पहले हम त्वचा के लिए पुदीना फेस पैक के फायदे बता रहे हैं।

पुदीना का फेस पैक के फायदे – Benefits Of Pudina Face Packs in Hindi

यहां हम क्रमवार पुदीना का फेस पैक किस प्रकार त्वचा के लिए उपयोगी और फायदेमंद है, यह बताएंगे। ताकि त्वचा के लिए इसकी उपयोगिता को आसानी से समझा जा सके।

1. त्वचा की रंगत सुधारे

पुदीना और पुदीना से बने उत्पादों के साथ ही पुदीने के तेल का इस्तेमाल भी त्वचा की रंगत को सुधारने  में मददगार साबित हो सकता है। इस बात का स्पष्ट प्रमाण मेल्शियन सलाद “उलम” में शामिल की जाने वाली सामग्रियों पर किए गए शोध से मिलता है, जिसमें पुदीना भी शामिल है। शोध में माना गया है कि पुदीना में पॉलीफेनोल तत्वों की मौजूदगी के कारण एंटी-टायरोसिनेस (त्वचा को साफ करने वाला) प्रभाव पाया जाता है। इस कारण इसे त्वचा की रंगत में सुधार करने वाले उत्पादों में भी उपयोग किया जाता है (1)। ऐसे में यह माना जा सकता है कि पुदीना फेस पैक त्वचा की रंगत को सुधर करने में भी सहायक हो सकता है।

2. त्वचा को नमी प्रदान करे

पुदीना की पत्तियों में पाए जाने वाला मेन्थॉल (एक प्रकार का यौगिक) त्वचा को ठंडक प्रदान करने का काम करता है। साथ ही यह त्वचा को नमी प्रदान करने में मदद कर सकता है (2)। इस आधार पर यह माना जा सकता है कि पुदीना से तैयार फेस मास्क त्वचा को नमी प्रदान कर त्वचा के शुष्क होने की समस्या को कम कर सकता है।

3. स्किन टोन करे

पुदीना फेस पैक के फायदे स्किन टोन करने में भी मदद कर सकते हैं। दरअसल, पुदीन में मेन्थॉल पाया जाता है। इस वजह से यह त्वचा को ठंडक प्रदान करने में मदद कर सकता है (2)। वहीं इसमें सूदिंग (त्वचा को आराम पहुंचाने वाला) गुण भी मौजूद होता है (3)। साथ ही पुदीना में एंटीबैक्टीरियल (बैक्टीरिया को नष्ट करने वाला) प्रभाव भी मौजूद होता है, जो त्वचा से जुड़े संक्रमण से बचाव में सहायक हो सकता है (4)। इस वजह से माना जा सकता है कि पुदीने के फायदे स्किन को टोन करने में मदद कर सकते हैं।

4. ब्लैकहेड्स दूर करे

त्वचा में सीबम का अधिक उत्पादन होने की स्थिति में कभी-कभी त्वचा पर मौजूद मृत कोशिकाओं की परत त्वचा के रोम छिद्रों को बंद कर देती है, जिसके कारण सीबम त्वचा से बाहर नहीं निकल पाता है और वो व्हाइटहेड्स और ब्लैकहेड्स का कारण बन जाता है (5)। वहीं, पुदीने में सैलिसिलिक एसिड (Salicylic Acid) होता है, जो त्वचा के बंद हुए रोम छिद्रों की सफाई कर उन्हें खोलने में मदद कर सकता है (6)। इस आधार पर यह कह सकते हैं पुदीने का इस्तेमाल करना ब्लैकहेड्स के साथ-साथ व्हाइटहेड्स की समस्या को दूर करने में भी प्रभावी हो सकता है।

5. आंखों के नीचे काले घेरे कम करे

आंखों के नीचे काले घेरे की समस्या चेहरे की सुंदरता को कम कर सकती है, जिससे छुटकारा दिलाने में पुदीना का फेस पैक कारगर हो सकता है। इस बात की जानकारी सौंदर्य को बढ़ावा देने वाली कुछ जड़ी-बूटियों पर किए गए एक शोध से मिलती है। शोध में मन गया है कि आंखों के नीचे काले घेरों पर पुदीने की पत्तियों का पेस्ट लगाना प्रभावकारी साबित हो सकता है (7)। इस आधार पर पुदीने का पेस्ट आंखों के काले घर कम करने के उपाय के रूप में सहायक माना जा सकता है।

6. बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करे

त्वचा पर दिखने वाले बढ़ती उम्र के प्रभाव जैसे कि आसमान रंगत, झुर्रियां, त्वचा की कम होती इलास्टी और स्किन का ढीलापन दूर करने में भी पुदीना फेस पैक के फायदे हासिल किए जा सकते हैं। यह बात पुदीना से संबंधित एक शोध से स्पष्ट होती है। शोध में माना गया है कि अन्य औषधीय गुणों के साथ ही इसमें एंटी-एजिंग (बढ़ती उम्र के प्रभाव को कम करने वाला) गुण पाया जाता है (8)।

7. मुंहासे दूर करें

लेख में आपको पहले ही बताया जा चुका है कि पुदीना में एंटी-बैक्टीरियल प्रभाव पाया जाता है, जो  त्वचा संबंधी समस्याएं दूर करने के मददगार साबित हो सकता है। वहीं मुंहासों से संबंधित एक शोध में भी पाया गया है कि पुदीने के तेल में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल प्रभाव मुंहासों की समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (9)। इस आधार पर यह कहना गलत नहीं होगा कि मुंहासे को दूर करने के उपाय के तौर पर भी पुदीना और पुदीने के तेल को उपयोग में लाया जा सकता है।

लेख में आगे बढ़ें

लेख के अगले भाग में अब हम कुछ पुदीना फेस पैक के बारे में बताएंगे।

पुदीना का फेस पैक – Pudina Face Packs in Hindi

1. खीरा, पुदीना और शहद का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 – 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां
  • खीरा के 2 छोटे स्लाइस
  • आधा चम्मच शहद

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले खीरा और पुदीने की पत्तियों को मिक्सर में पीस कर मोटा पेस्ट बनाएं।
  • फिर इसे एक कटोरी में निकालें।
  • अब इसमें शहद मिलाएं।
  • बाद में इस तैयार फेस पैक को चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • 20 मिनट बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 या 2 बार इस फेस को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है : 

त्वचा के लिए पुदीना फेस पैक के फायदे हम बता ही चुके हैं। वहीं इसके प्रभाव को अधिक बढ़ाने के लिए इसमें खीरा और शहद का इस्तेमाल किया जा सकता है। खीरा के फायदे की बात करें, तो खीरे में मौजूद विटामिन ए, सी और अन्य एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को सॉफ्ट बनाने और मॉइस्चराइज करने में मदद कर सकते हैं। साथ ही खीरे में एंटीइंफ्लामेटरी (सूजन कम करने वाला) गुण भी होते हैं, जो त्वचा की सूजन को कम करने में भी सहायक है। इसके अलावा यह त्वचा से निकलने वाले प्राकृतिक तेल को नियंत्रित करने के साथ ही त्वचा को टोन करने और त्वचा की रंगत में सुधार करने का भी काम कर सकता है (10)।

वहीं, शहद के फायदे की बात करें, तो यह एंटीइंफ्लामेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुणों से समृद्ध होता है, जो बैक्टीरिया की वजह से त्वचा पर होने वाले मुंहासों और सूजन को कम करने में मदद सकते हैं। साथ ही शहद त्वचा की नमी को बरकरार रखने में भी मदद कर सकता है (11)। इस आधार पर त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं के लिए खीरा, पुदीना और शहद का फेस पैक लाभकारी माना जा सकता है।

2. केला और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 – 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां
  • केले के 2 छोटे स्लाइस

उपयोग का तरीका :

  • सबसे पहले केला और पुदीने की पत्तियों को मिक्सर में पीस कर मोटा पेस्ट बनाएं।
  • फिर इसे एक कटोरी में निकालें।
  • फिर इस तैयार फेस पैक को चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • 20 मिनट बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 या 2 बार इस फेस को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

पुदीना फेस पैक के फायदे बढ़ाने के लिए इसमें केला भी मिला सकते हैं। दरअसल, केले में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स स्किन डिटॉक्सिफायर की तरह काम कर सकते हैं। ऐसे में केला चेहरे पर मौजूद विषाक्त और डेड स्किन (मृत कोशिकाओं) को हटाने में प्रभावी हो सकता है। साथ ही यह चेहरे को जरूरी पोषक तत्व भी प्रदान कर सकता है, जिससे चेहरे की चमक बढ़ा सकती है (12)। इसके अलावा, एक्ने की समस्या में भी केले के फायदे लाभकारी हो सकते हैं। दरअसल, केले में एंटी एक्ने प्रभाव होता है, जो एक्ने यानी मुंहासे दूर करने में मदद कर सकता है (13)।

3. नींबू और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 – 12 पुदीने की ताजी पत्तियां
  • 1 चम्मच नींबू का रस

उपयोग का तरीका : 

  • पुदीने की पत्तियों को पीस कर उसका पेस्ट बना लें।
  • फिर उसमें नींबू का रस मिलाएं और इसे त्वचा पर लगाएं।
  • करीब 15 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • इस उपाय को दिन में एक बार इस्तेमाल किया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

पुदीना फेस पैक के साथ नींबू का उपयोग ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस की वजह से होने वाली एजिंग को कम करने में मदद कर सकता है (14)। साथ ही नींबू में मौजूद विटामिन सी की मात्रा त्वचा को चमकदार रखने के साथ ही रंगत को निखारने में भी मदद कर सकती है (15)।

4. दूध, शहद, ओट्स, खीरा और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 – 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां
  • 1 चम्मच ओट्स (दलिया)
  • 1 चम्मच दूध
  • खीरे का 1 छोटा स्लाइस
  • आधा चम्मच शहद

उपयोग का तरीका : 

  • पुदीने की पत्तियां, खीरा और ओट्स को एक साथ पीसकर इनका पेस्ट तैयार करें।
  • फिर इसे एक कटोरी में निकालें।
  • अब इसमें शहद और दूध मिलाएं।
  • फिर इस तैयार फेस पैक को चेहरे और गर्दन पर लगाएं और करीब 10 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • जब यह थोड़ा सूख जाए, तो 5 मिनट के लिए हल्के हाथों से चेहरे को स्क्रब करें।
  • इसके बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 बार इस फेस पैक को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है : 

पुदीना फेस पैक के साथ ही खीरा और शहद के फायदे भी लेख में ऊपर बता दिए गए हैं। वहीं त्वचा के लिए दूध के फायदे की बात करें, तो दूध त्वचा को पुनर्जीवित करने और घाव भरने में मददगार हो सकता है (16)। इसके अलावा ओट्स के फायदे के बात करें, तो इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेटरी गुण होते हैं। यह गुण संयुक्त रूप से त्वचा संबंधी विभिन्न इंफ्लामेटरी रोगों से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं। इन रोगों में प्रुरिटस (स्किन पर होने वाली खुजली), एटॉपिक डर्मेटाइटिस (त्वचा पर खुजली और लाल चकत्ते), एक्ने जैसी समस्याएं शामिल हैं (17)।

5. मुल्तानी मिट्टी और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 से 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां
  • 1 चम्मच मुल्तानी मिट्टी

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले पुदीने की पत्तियों को मिक्सर में पीसकर इसका पेस्ट बनाएं।
  • फिर इसमें मुल्तानी मिट्टी मिलाएं।
  • फिर इस तैयार फेस पैक को चेहरे पर लगाएं।
  • 20 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 या 2 बार इस फेस को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

त्वचा के लिए पुदीना फेस पैक के फायदे बढ़ाने के लिए इसके पेस्ट में मुल्तानी मिट्टी भी मिला सकते हैं। मुल्तानी मिट्टी चेहरे के अत्यधिक तेल को सोखकर गंदगी को गहराई से साफ कर सकती है। साथ ही यह त्वचा के दाग-धब्बों को कम करके स्किन को नमी देने का काम भी कर सकती है(18)।

6. दही और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 से 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां
  • 1 चम्मच दही

उपयोग का तरीका : 

  • पुदीने की पत्तियों को पीसकर इसका पेस्ट बना लें।
  • फिर इसमें दही मिलाएं और इस मिश्रण को चेहरे पर लगाएं।
  • फिर इसे एक कटोरी में निकालें।
  • 20 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 या 2 बार इस फेस को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है : 

एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन) की वेबसाइट पर मौजूद एक रिसर्च के अनुसार, दही के फायदे में त्वचा की नमी को बरकरार रखान शामिल है। साथ ही दही से बना फेस पैक लगाने से त्वचा को कोमल और चमकदार बनाए रखने व त्वचा की इलास्टिसिटी बढ़ाने में भी मदद मिल सकती है (19)। वहीं, पुदीना फेस पैक के लाभ हम पहले ही बता चुके हैं। इस आधार पर पुदीना के फेस पैक में दही मिलाकर लगाना अधिक लाभकारी माना जा सकता है।

7. शहद, गुलाब जल और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 1 चम्मच गुलाब जल
  • आधा चम्मच शहद
  • 10 से 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां

उपयोग का तरीका : 

  • पुदीने की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बनाएं।
  • फिर इसमें शहद और गुलाब जल अच्छे से मिलाएं।
  • अब इस तैयार मिश्रण को चेहरे पर लगाएं।
  • 20 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 से 2 बार इस फेस को लगा सकती हैं।

कैसे लाभदायक है : 

त्वचा के लिए शहद और पुदीना फेस पैक के लाभ हम पहले ही बता चुके हैं। वहीं इसके प्रभावों को बढ़ाने के लिए इसमें गुलाब जल का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। त्वचा के लिए गुलाब जल के फायदे की बात करें, तो गुलाब जल गुलाब की पंखुड़ियों के अर्क से तैयार किया जाता है, जो सूर्य की हानिकारक यूवी किरणों की वजह से ढीली होती त्वचा (Skin Deterioration) को ठीक करने में मदद कर सकता है (20)। इसके अलावा, गुलाब की पंखुड़ियों के अर्क में स्किन व्हाइटनिंग गुण होता है, जो त्वचा की रंगत में निखार लाने में मदद कर सकती है (21)।

8. खीरे और पुदीने का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 – 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां
  • खीरे  के 2 छोटे स्लाइस

उपयोग का तरीका : 

  • सबसे पहले खीरा और पुदीने की पत्तियों को मिक्सर में पीस कर मोटा पेस्ट बनाएं।
  • फिर इसे एक कटोरी में निकालें।
  • फिर इस तैयार फेस पैर को चेहरे और गर्दन पर लगाएं।
  • 20 मिनट बाद गुनगुने पानी से चेहरा धो लें।
  • सप्ताह में 1 या 2 बार इस फेस को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है :

पुदीने का कुलिंग प्रभाव जहां त्वचा को ठंडक प्रदान कर सकता है (2), वहीं खीरा त्वचा से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने में प्रभावकारी हो सकता है। दरअसल, खीरे में विटामिन ए, सी के साथ अन्य एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो त्वचा को सॉफ्ट बनाने में मदद कर सकते हैं। साथ ही इसका एंटीइंफ्लामेटरी (सूजन कम करने वाला) त्वचा से संबंधित सूजन को दूर करने में मदद कर सकता है (10)।

9. पुदीना का फेस पैक

सामग्री :

  • 10 – 12 पुदीने की ताजी हरी पत्तियां

उपयोग का तरीका : 

  • पुदीने की पत्तियों को पीस कर इसका पेस्ट तैयार करें।
  • फिर इसे चेहरे पर लगाएं।
  • जब यह सूख जाए तो ठंडे पानी से चेहरे धो लें।
  • सप्ताह में 2 या 3 बार इस फेस को लगाया जा सकता है।

कैसे लाभदायक है : 

पुदीने की पत्तियों में सूदिंग और कूलिंग प्रभाव होता है, जो त्वचा त्वचा पर होने वाली जलन और खुजली जैसी समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकता है (2)। वहीं इसमें मौजूद एंटी-बैक्टीरियल प्रभाव त्वचा से संबंधित संक्रमण को दूर रखने में मदद कर सकता है (4)। इसके अलावा पुदीना त्वचा की रंगत में सुधार कर निखार लाने में भी सहायक हो सकता है (3)।

उम्मीद है कि रसोई घर में आसानी से मिलने वाला पुदीना आपकी त्वचा से जुड़ी कई छोटी-मोटी समस्याओं के उपचार में जरूर कारगर साबित होगा। साथ ही पुदीना फेस पैक के फायदे पाने के लिए इसके साथ अन्य सामग्रियों का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जिनके बारे में विस्तृत जानकारी पहले ही इस लेख में दी जा चुकी है। तो बस अपनी जरूरत या किचन में मौजूद सामग्री के आधार पर मिनटों में पुदीना का फेस पैक बनाएं और आज ही त्वचा से जुड़े इसके लाभ प्राप्त करें। साथ ही आप अपने परिजनों और दोस्तों के साथ भी इस लेख को जरूर शेयर करें।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या पुदीना त्वचा की रंगत निखारने के लिए अच्छा है?

हां, पुदीने की मदद से त्वचा की रंगत निखारने में मदद मिल सकती है (3)।

क्या चेहरे पर पुदीना लगाना अच्छा है?

हां, लेख में हमें चेहरे पर इस्तेमाल किए जाने वाले कई फेस पैक के बारे में विस्तार से बताया है, जिसमें इससे होने वाले फायदे भी शामिल हैं। ऐसे में यह कहा जा सकता है कि चेहरे पर पुदीना लगाना अच्छा है।

क्या पुदीना ब्लैकहेड्स की समस्या दूर कर सकता है?

हां, पुदीने में मौजूद सैलिसिलिक एसिड (Salicylic Acid) त्वचा के बंद हुए रोम छिद्रों की सफाई कर उन्हें खोलने में मदद कर सकता है, जो ब्लैकहेड्स की समस्या में लाभकारी हो सकता है (6)।

क्या हर रोज पुदीने का फेस पैक इस्तेमाल कर सकते हैं?

हां, अगर केवल पुदीने या पुदीने के इस्तेमाल करते हुए पुदीना का फेस पैक बनाया जा रहा है, तो इसे बेहतर लाभ के लिए हर रोज भी इस्तेमाल किया जा सकता है (22)। बशर्ते, इससे किसी को एलर्जी की समस्या न हो।

क्या मुंहासों के पुदीना का इस्तेमाल करना अच्छा है?

हां, मुंहासों की समस्या से राहत पाने के लिए पुदीना का फेस पैक इस्तेमाल करना लाभकारी है (9)। इस बारे में लेख में पहले ही विस्तार से बताया जा चुका है।

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. TRADITIONAL MALAYSIAN SALADS (ULAM) AS A SOURCE OF ANTIOXIDANTS
    http://file.upi.edu/Direktori/FPMIPA/JUR._PEND._KIMIA/197907302001122-HELI_SITI_HALIMATUL_M/Prosiding_UKM-ITB_VIII/AA3_Mamot.pdf
  2. Clinical Trial on Aveeno Skin Relief Moisturizing Lotion in Patients with Itching Accompanied
    by Skin Lesions and Xerosis
    http://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.609.1849&rep=rep1&type=pdf
  3. Formulation and development of whitening polyherbal face cream
    http://rjtcsonline.com/AbstractView.aspx?PID=2012-3-1-6
  4. Phytochemical Prospection, Toxicity and Antimicrobial Activity of Mentha arvensis (Labiatae) from Northeast of Brazil
    http://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.1042.3224&rep=rep1&type=pdf
  5. Acne: Overview
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK279211/
  6. Therapeutic agents and herbs in topical application for acne treatment
    https://onlinelibrary.wiley.com/doi/full/10.1111/j.1468-2494.2011.00647.x
  7. Plants used for the beauty care in Dhaka, Bangladesh
    http://journal.sukulhomeopathy.com/gallery/zashim_edit%20final.pdf
  8. Evaluation of antimicrobial and phytochemical profile of medicinally important herb Mentha arvensis (L) against various microorganism
    http://www.journalijar.com/uploads/2013-06-26_150646_654.pdf
  9. Hop Extract Acts as an Antioxidant with Antimicrobial Effects against Propionibacterium Acnes and Staphylococcus Aureus
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6359372/
  10. Fermentation of Cucumber Extract with Hydromagnesite as a Neutralizing Agent to Produce an Ingredient for Dermal Magnesium Products
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6566975/
  11. Medicinal and cosmetic uses of Bee’s Honey – A review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3611628/
  12. Antioxidant activity of combination banana peel (Musa paradisiaca) and watermelon rind (Citrullus vulgaris) extract in lotion dosage form
    https://www.researchgate.net/publication/315946822_Antioxidant_activity_of_combination_banana_peel_Musa_paradisiaca_and_watermelon_rind_Citrullus_vulgaris_extract_in_lotion_dosage_form
  13. Preparation and Evaluation of Poly Herbal Fruit Face Mask
    http://www.questjournals.org/jrps/papers/vol2-issue11/B2110713.pdf
  14. Antioxidant and anti-ageing activities of citrus-based juice mixture
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/26471635/
  15. BASKETFUL BENEFITS OF CITRUS LIMON
    https://irjponline.com/admin/php/uploads/2498_pdf.pdf
  16. Wound healing property of milk in full thickness wound model of rabbit
    https://www.sciencedirect.com/science/article/pii/S1743919118307167
  17. Oatmeal in dermatology: a brief review
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22421643/
  18. In-House Preparation and Standardization of Herbal Face Pack
    https://pdfs.semanticscholar.org/1ca2/5c17343fd28d0dfa868e2abd0919f8e986dd.pdf
  19. Clinical efficacy of facial masks containing yoghurt and Opuntia humifusa Raf. (F-YOP)
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22152494/
  20. Skin anti‐inflammatory activity of rose petal extract (Rosa gallica) through reduction of MAPK signaling pathway
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6261181/
  21. ANTITYROSINASE ACTIVITY AND ANTIOXIDANT ACTIVITY OF SANTALUM ALBUM & ROSA BRACTEATAE PLANT EXTRACTS FOR SKIN WHITENING ASSAY
    https://storage.googleapis.com/journal-uploads/ejbps/article_issue/volume_5_august_issue_8/1533021626.pdf
  22. Use of Herbal Therapies to Relieve Pain: A Review of Efficacy and Adverse Effects
    https://citeseerx.ist.psu.edu/viewdoc/download?doi=10.1.1.412.2143&rep=rep1&type=pdf
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Kavita Singh
Kavita Singhब्यूटी एंड लाइफस्टाइल राइटर
.

Read full bio of Kavita Singh