Dr. Suvina Attavar, MBBS, DVD
Written by , (शिक्षा- बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मीडिया कम्युनिकेशन)

हर किसी के व्यक्तित्व की खूबसूरती उसके सिर के बालों से कई गुना बढ़ जाती है। वहीं, असंतुलित खान-पान, तनाव भरी जिंदगी, धूल-मिट्टी, प्रदूषण और केमिकल युक्त हेयर प्रोडक्ट्स ने सिर के बालों का दम निकालकर रख दिया है। ऐसे में सवाल उठता है कि इस भागदौड़ भरी जिंदगी में बालों की देखभाल कैसे करें? तो इसका जवाब स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम लेकर आए हैं। इस आर्टिकल में हम कुछ ऐसे हेयर केयर टिप्स बता रहे हैं, जो न सिर्फ फायदेमंद हैं, बल्कि उनका प्रयोग भी बेहद आसान है। तो चलिए जानते हैं, बालों की केयर कैसे करें।

विस्तार से पढ़ें

सबसे पहले जानेंगे कि हेयर केयर टिप्स एट होम कौन-कौन से हैं।

बालों के लिए घरेलू उपाय – Homemade Tips for Hair Care in Hindi

अगर आप सोच रहें है कि बालों की देखभाल कैसे करें, तो यह बेहद आसान है। इसके लिए किसी को पार्लर जाने की जरूरत नहीं है। यह काम घर बैठे भी बड़ी आसानी से किया जा सकता है। यहां हम ऐसे 9 हेयर केयर टिप्स बताने जा रहे हैं, जो बालों की देखभाल के लिए उपयोगी साबित हो सकते हैं।

नोट: यहां बताई गई किसी भी सामग्री से अगर किसी को एलर्जी है, तो उसकी जगह किसी और घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल कर सकते हैं।

1. हेयर ऑयल

बालों की देखभाल के लिए हेयर ऑयल सबसे जरूरी है। नीचे हम कुछ तेलों के बारे में बता रहे हैं, जो बालों के लिए बेहतर माने जा सकते हैं।

  • ऑलिव ऑयल : ऑलिव ऑयल पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह बालों से कई जुड़ी समस्याओं में फायदेमंद साबित हो सकता है। इससे जुड़े एक वैज्ञानिक शोध में जिक्र मिलता है कि जैतून का तेल बाल झड़ने, बालों की दो-मुंहे होने की समस्या और हेयर डैमेज में लाभकारी हो सकता है (1)।
  • वर्जिन कोकोनट ऑयल : बालों के लिए वर्जिन कोकोनट ऑयल भी लाभकारी माना जा सकता है। यह बालों को हाइड्रेट कर सकता है। इसमें मौजूद फैटी एसिड, विटामिन और खनिज बालों को पोषण देने का काम कर सकते हैं। यह बालों को झड़ने से रोकने से साथ-साथ सूर्य की पराबैंगनी किरणों से बचाने में भी मदद कर सकता है (2)।
  • आलमंड ऑयल : बादाम का तेल भी बालों के लिए अच्छा माना जा सकता है। दरअसल, बादाम का तेल फैटी एसिड का एक अच्छा स्रोत है और फैटी एसिड बालों के विकास को बढ़ावा देने में मददगार माने जाते हैं (3) (4)।

2. कंडीशनर – अंडा

प्रक्रिया नंबर-1

सामग्री :

  • दो अंडे
  • दो चम्मच जैतून का तेल
  • थोड़ा पानी (वैकल्पिक)

कैसे प्रयोग करें :

  • दोनों अंडों को तोड़कर उनके पीले हिस्से को कटोरी में डाल दें।
  • अब इसमें जैतूल का तेल डालकर मिक्स करें।
  • अगर जरूरत लगे, तो इसमें थोड़ा पानी मिक्स कर सकते हैं।
  • फिर ब्रश की सहायता से इस पैक को अपने बालों पर लगाएं और दो घंटे के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद ठंडे पानी और माइल्ड शैंपू से बालों को धो लें।

कब करें प्रयोग :

इसे हफ्ते में एक बार अपने बालों में लगा सकते हैं।

प्रक्रिया नंबर-2

सामग्री :

  • दो अंडे
  • चार चम्मच मेयोनीज

कैसे प्रयोग करें :

  • एक कटोरी में इन दोनों सामग्रियों को अच्छी तरह मिक्स कर लें। चाहें, तो इसमें थोड़ा-सा जैतून का तेल भी डाल सकते हैं।
  • ब्रश की मदद से इस पेस्ट को बालों की जड़ों से लगाएं और शॉवर कैप पहन लें।
  • करीब 30 मिनट बाद ठंडे पानी से बालों को धो लें और बाद में सल्फेट फ्री शैंपू से बालों को साफ करें, ताकि अंडे की गंध बालों से निकल जाए।

कब करें प्रयोग :

इस कंडीशनर को हफ्ते में कम से कम एक बार प्रयोग कर सकते हैं।

प्रक्रिया नंबर-3

सामग्री :

  • आधा कप अंडा

कैसे प्रयोग करें :

  • पूरे अंडे को मिक्स करके बालों पर लगाएं। अगर आधा कप अंडा कम पड़े, तो और भी ले सकते हैं।
  • करीब 20 मिनट लगा रहने दें और फिर पानी व शैंपू से बालों को अच्छी तरह धो लें।

कब करें प्रयोग :

बालों की देखभाल के तरीके के रूप में इसे महीने में एक बार प्रयोग कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

अंडा बालों पर चमत्कारी तरीके से काम कर सकता है। इसमें प्रोटीन, विटामिन और फोलिक एसिड प्रचुर मात्रा में होते हैं (5)। ये सभी मिनरल्स और विटामिन बालों के लिए बेहद जरूरी माने जाते हैं (6)। वहीं, ऑलिव ऑयल में मौजूद इमाल्यन्ट (emollient) और तैलीय गुणों के कारण इसका इस्तेमाल नेचुरल कंडीशनर के रूप में किया जा सकता है (7)। यही नहीं, इसमें मौजूद मॉइस्चराइजिंग गुण बालों को नमी प्रदान कर सकते हैं (8)। वहीं, घर में बनी मेयोनीज बालों को ताकत प्रदान कर सकती है। इसमें बहुत सारे तेल और प्रोटीन होते हैं, जो बालों को अच्छी तरह से मॉइस्चराइज करने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं (9)।

3. डैमेज हेयर – शहद व ऑलिव ऑयल

सामग्री :

  • शहद – दो चम्मच
  • ऑलिव ऑयल – दो चम्मच

उपयोग करने का तरीका :

  • सबसे पहले इन दोनों सामग्रियों को आपस में मिक्स कर लें।
  • इसके बाद हल्के-हल्के हाथों से इससे सिर की मालिश करें।
  • मालिश के करीब 20 मिनट बाद बालों को शैंपू से धो लें।
  • इस मिश्रण को हल्का गुनगुना करके भी मसाज कर सकते हैं।

कैसे है फायदेमंद :

शहद और ऑलिव ऑयल का मिश्रण भी बालों को टूटने से रोकने में काफी सहायक साबित हो सकता है। दरअसल, ऑलिव ऑयल में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड, ट्राइग्लिसराइड्स, टोकोफेरोल, कैरोटेनॉइड्स और स्क्वैलीन मौजूद होते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट गुण दर्शाते हैं और बालों को नुकसान होने से बचा सकते हैं। साथ ही हाइड्रेट करने की क्षमता रखते हैं (10)। वहीं, शहद बालों के लिए कंडीशनर की तरह काम कर सकता है (11)।

4. सिर में खुजली – नींबू व ऑलिव ऑयल

सामग्री :

  • दो चम्मच नींबू का रस
  • दो चम्मच ऑलिव ऑयल

उपयोग करने का तरीका :

  • दोनों सामग्रियों को एक कटोरी में डालकर मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण से अपने सिर की हल्के-हल्के हाथों से मालिश करें।
  • इसके करीब 20 मिनट बाद शैम्पू से बालों को धो लें।

कैसे है फायदेमंद :

डैंड्रफ के कारण सिर में होने वाली खुजली से आराम दिलाने में नींबू एक अहम भूमिका निभा सकता है। दरअसल, नींबू में मौजूद एंटीफंगल गुण मालासेजिया फुरफुर (Malassezia furfur) नामक फंगी को पनपने से रोक सकते हैं, जो डैंड्रफ का कारण बनते हैं (12)। इससे सिर में होने वाली खुजली से भी निजात मिल सकता है। वहीं, नींबू के साथ ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल बालों के विकास को बढ़ावा देने का काम कर सकता है (1)।

5. उलझे बाल – एवोकाडो

सामग्री :

  • एवोकाडो – एक पका हुआ
  • योगर्ट – एक कप

उपयोग करने का तरीका :

  • एवोकाडो को काटकर उसमें से बीज निकाल लें।
  • अब इसे अच्छी तरह मसल लें और फिर इसमें योगर्ट को मिलाकर पेस्ट बना लें।
  • इस पेस्ट को सिर पर लगाएं और 40-45 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद सिर को शैंपू से धो लें और बाद में कंडीशनर भी लगाएं।

कैसे है फायदेमंद :

एवोकाडो उलझे हुए बालों के लिए असरकारी माना जा सकता है। दरअसल, एवोकाडो एक बेस्ट हेयर कंडीशनर के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है (13)। इससे बाल मुलायम बने रहते हैं और उनके उलझने का जोखिम कम हो सकता है। वहीं, दही भी बालों को कंडीशनिंग करने में प्रभावी माना जा सकता है। यह बालों को मुलायम और स्वस्थ बनाए रख सकता है (14)।

6. घने बाल – बीयर व अंडा

सामग्री :

  • फ्लैट बियर – आधा कप
  • एवोकाडो ऑयल – एक चम्मच
  • अंडा – एक

उपयोग करने का तरीका :

  • सभी सामग्रियों को एक कटोरी में डालकर अच्छी तरह मिक्स कर लें।
  • अब इस मिश्रण को पहले बालों की जड़ों में लगाएं और फिर मालिश करते हुए पूरे बालों में लगाएं।
  • जब यह स्कैल्प व बालों पर अच्छी तरह लग जाए, तो सिर को शॉवर कैप से ढक लें।
  • करीब 30 मिनट बाद बालों को शैंपू कर लें और बाद में कंडीशनर भी करें।

कैसे है फायदेमंद :

दरअसल, बीयर में कैल्शियम की प्रचुर मात्रा होती है (15)। एक शोध से पता चलता है कि कैल्शियम बालों की देखभाल के लिए जरूरी है। यह बालों का सही से रखरखाव करने में मदद कर सकता है, जिससे बाल घने बने रह सकते हैं (16)। वहीं, अंडे क्षतिग्रस्त बालों के पुनर्निर्माण में मदद कर सकते हैं। इसमें मौजूद बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन बालों को बढ़ने में भी मदद कर सकता है (17)।

7. टूटते बाल – एलोवेरा

सामग्री:

  • प्याज – तीन से चार
  • एलोवेरा जेल – एक चम्मच

उपयोग करने का तरीका :

  • सबसे पहले तीन से चार प्याज लेकर उन्हें मिक्सी में ग्राइंड कर लें और फिर किसी सूती कपड़े में डालकर निचोड़ लें, ताकि उसका रस निकल जाए।
  • अब इसमें एलोवेरा जेल मिलाकर मिक्स कर दें।
  • इसके बाद इस मिश्रण से तब तक सिर की मालिश करें, जब तक कि पूरे बालों पर यह मिश्रण लग न जाए।
  • करीब एक घंटे तक बालों को ऐसे ही रहने दें और फिर शैंपू से धो लें। इसके बाद कंडीशनर जरूर लगाएं।

कैसे है फायदेमंद :

एलोवेरा भी बेस्ट हेयर केयर टिप्स के लिस्ट में शामिल है। इसका उपयोग बालों को टूटने से रोकने के लिए भी किया जा सकता है। इसमें मौजूद एंजाइम स्कैल्प की रक्षा कर सकते हैं और बालों को झड़ने से रोक सकते हैं (18)। वहीं, प्याज का रस बालों के री- ग्रोथ में मदद कर सकता है (19)।

8. डैंड्रफ – ब्राउन शुगर

सामग्री :

  • ब्राउन शुगर – दो चम्मच
  • नींबू का रस – दो चम्मच
  • जोजोबा ऑयल – दो चम्मच
  • नमक – एक चम्मच

उपयोग करने का तरीका :

  • ब्राउन शुगर और नमक को एक कटोरी में मिक्स कर लें।
  • अब इसमें जोजोबा ऑयल और नींबू के रस को मिला दें।
  • इस मिश्रण को सिर व बालों पर लगाने के बाद 30 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर शैंपू से धो लें।

कैसे है फायदेमंद :

डैंड्रफ से छुटकारा पाने में ब्राउन शुगर भी मदद कर सकता है। दरअसल, बालों में डैंड्रफ का एक कारण मालासेजिया फुरफुर (Malassezia furfur) नामक फंगी को भी माना जाता है (12)। वहीं, ब्राउन शुगर में एंटी फंगल गुण पाए जाते हैं (20)। जो इस तरह के फंगस को पनपने से रोकने में मदद कर सकता है। इस आधार पर माना जा सकता है कि ब्राउन शुगर डैंड्रफ को रोकने में मदद कर सकता है। फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

9. शैम्पू

बालों को लंबा, घना और स्वस्थ बनाए रखने के लिए जरूरी है कि उन्हें साफ-सुथरा रखें। साथ ही हर्बल हेयर केयर शैंपू का चुनाव करें (21)। हर तरह के बालों के लिए शैंपू भी अलग-अलग होते हैं। इसलिए, जब भी शैंपू चुनें, इस बात का ध्यान जरूर रखें।

  • रूखे बालों के लिए : शैंपू ऐसा होना चाहिए, जो बालों को मॉइस्चराइज करे और उन्हें मुलायम बनाए। ऐसा कोई शैंपू न लें, जो स्कैल्प में मौजूद प्राकृतिक तेल को भी सुखा दे। इससे बाल और रूखे व बेजान हो जाएंगे। रूखे बालों के लिए शैंपू लेने से पहले जांच लें कि उसमें एवोकाडो, नारियल, आर्गन या फिर ग्रेपसीड का तेल जरूर हो। साथ ही रूखे बालों में शैंपू करने के बाद कंडीशनर का प्रयोग जरूर करें।
  • तैलीय बालों के लिए : इस तरह के बालों के लिए ऐसा शैंपू न लें, जो मॉइस्चराइजिंग व कंडीशनर का काम करता हो। तैलीय बालों को और मॉइस्चराइजिंग की जरूरत नहीं होती। तैलीय बालों में डैंड्रफ की समस्या आम होती है। इसलिए, कीटोकोनाजोल, सेलेनियम सल्फाइड व सिक्लोपिरोक्स ओलामीन युक्त शैंपू का चुनाव करें। ऐसे बालों के लिए नींबू युक्त शैंपू भी बेहतर हो सकता है।
  • सामान्य बालों के लिए : इस तरह के बाल न तो ड्राई होते हैं और न ही तैलीय, इसलिए ऐसे बालों के लिए कोई भी सामान्य शैंपू प्रयोग कर सकते हैं। ध्यान रहे कि यह शैंपू हर्बल और अच्छे ब्रांड का होना चाहिए।

पढ़ते रहें लेख

बालों की केयर कैसे करें? यह जानने के बाद बालों के लिए उपयुक्त डाइट के बारे में जानते हैं।

बालों की देखभाल के लिए क्या खाना चाहिए? – Diet for Hair Care in Hindi

यहां हम कुछ ऐसे खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं, जो रूखे, बेजान व तैलीय बालों के लिए जरूरी हैं। इन खाद्य पदार्थों को अपने भोजन में शामिल करने से जरूरी पोषक तत्व मिलते हैं, जो बालों के लिए जरूरी हैं। अगर बाल पूरी तरह से ठीक हैं, तो भी इनका सेवन कर सकते हैं।

1. तैलीय बालों के लिए

  • विटामिन-ए : बालों व शरीर के लिए विटामिन-ए बेहद जरूरी है। विटामिन-ए युक्त खाद्य पदार्थ खाने से शरीर में सीबम का उत्पादन नियंत्रित हो सकता (22)। यह सीबम ही है, जो शरीर व स्कैल्प में पसीने व तेल का कारण बनता है। फिश, चिकन, फल व सब्जियों में विटामिन-ए भरपूर मात्रा में पाया जाता है (23)। ये न सिर्फ बालों को लंबा और घना बनाते हैं, बल्कि उनकी चमक भी लौटा सकते हैं।
  • जिंक : हमारे शरीर को जिंक की जरूर होती है। जिंक युक्त खाद्य पदार्थ का सेवन करने से शरीर में सीबम के उत्पादन को नियंत्रित किया जा सकता है (24)। बाजार में जिंक के सप्लीमेंट्स आसानी से मिल जाते हैं। इसके अलावा, मछली, सूखे मेवों, अनाज व फलियों में भी जिंक पाया जाता है। ओट्स को भी जिंक का मुख्य स्रोत माना गया है (25)। इन खाद्य पदार्थों के सेवन से बालों की गुणवत्ता में सुधार होगा।

2. रूखे बालों के लिए

  • आयरन : बालों के फॉलिकल्स को बढ़ाने व मजबूत करने के लिए आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए (26)। जैसे – पालक, खजूर, कड़ी पत्ता व अनार आदि।
  • विटामिन-डी : बालों के बढ़ने में विटामिन-डी का अहम योगदान होता है। इसके सेवन से बालों में नई जान आती है (27)। मशरूम में विटामिन-डी अत्यधिक मात्रा में पाया जाता है (28)। साथ ही सोया पेय पदार्थ व योगर्ट में विटामिन-डी होता है। विटामिड-डी के सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं।
  • ओमेगा-3 : अगर नरम व मुलायम बालों की चाहत रखते हैं, तो अपने भोजन में ओमेगा-3 को शामिल करना न भूलें (29)। सैल्मन व मैकरल जैसी फैटी फिश में ओमेगा-3 काफी होता है। इसके अलावा, हरी पत्तेदार सब्जियों, अखरोट, चिया बीज और कुछ वनस्पति तेल में भी ओमेगा-3 पाया जाता है (30)।
  • बायोटीन (विटामिन-बी8) : बालों की मजबूती के लिए बायोटीन बेहद जरूरी है। यह फैटी एसिड, कार्बोहाइड्रेट व अमिनो एसिड के चयापचय (मेटाबॉलिज) करने में मदद करता है। बायोटीन की कमी से बालों के झड़ने की समस्या हो सकती है। यहां तक कि आईब्रो व पलकों के बाल भी झड़ सकते हैं। इसके लिए बायोटीन युक्त खाद्य-पदार्थों का सेवन किया जा सकता है, जिसमें अंडे की जर्दी, ओट्स, पालक, दूध, मशरूम व चावल जैसे खाद्य-पदार्थ शामिल हैं (31)।

नीचे स्क्रॉल करें

चलिए अब जान लेते हैं बालों की देखभाल के लिए कुछ और हेयर केयर टिप्स।

कुछ और हेयर केयर टिप्स – Other Hair Care Tips in Hindi

बालों की देखभाल के लिए कुछ और भी हेयर टिप्स हैं, जिनसे बाल सुरक्षित रह सकते हैं। जानिए नीचे –

  • तेल मालिश : हफ्ते में कम से कम एक बार सिर की मालिश जरूर करनी चाहिए। मालिश करने से स्कैल्प को जरूरी पोषण मिलता है और रूखापन दूर हो सकता है। साथ ही बाल जड़ों से मजबूत होने के साथ-साथ लंबे व घने हो सकते हैं (32)। मालिश के लिए नारियल, जैतून, बादाम या फिर अरंडी का तेल इस्तेमाल किया जा सकता है। अगर तेल को हल्का गर्म करके लगाया जाए, तो अच्छा असर हो सकता है।
  • प्रदूषण से बचाव : बालों की अच्छी सेहत के लिए उन्हें प्रदूषण से भी बचाना जरूरी है। प्रदूषण के कारण स्कैल्प में संक्रमण, खुजली या डैंड्रफ की शिकायत हो सकती है। यही नहीं, इससे बाल जड़ों से कमजोर होकर टूट भी सकते हैं। इसलिए, बालों को प्रदूषण से बचाना बेहद जरूरी है। इसके लिए आर्टिकल में दिए गए घरेलू नुस्खे का प्रयोग किया जा सकता है (33)।
  • ट्रिमिंग : बालों के विकास और स्वास्थ्य के लिए समय-समय पर ट्रिमिंग करना भी जरूरी है। इससे बालों के दो मुंहे होने की आशंका कम हो सकती है। साथ ही बाल उलझने से भी बच जाते है।
  • बालों पर प्रयोग करने से बचें : नए-नए फैशन को फॉलो करने के लिए कई लोग बालों पर कई तरह के प्रयोग करते हैं। बालों में नए स्टाइल बनाने के लिए अनेक केमिकल युक्त उत्पादों का भी इस्तेमाल करते हैं। इस कारण बालों की नेचुरल चमक फीकी पड़ सकती है। साथ ही बाल कमजोर होकर टूट भी सकते हैं। इसलिए, यह सुझाव है कि बालों के लिए एसएलएस व पैराबेंस फ्री शैंप व कंडीशनर का प्रयोग करें।
  • बालों पर गर्म पानी के इस्तेमाल से बचें : बालों को वॉश करने के लिए कई लोग गर्म पानी का इस्तेमाल करते हैं, जो कि नहीं करना चाहिए। गर्म पानी के इस्तेमाल से बालों की नमी गायब हो सकती है। इस कारण बाल रूखे और बेजान हो सकते है। इसलिए, बालों को धोने के लिए हमेशा गुनगुने पानी या फिर ठंडे पानी का ही इस्तेमाल करें।
  • बालों पर करें कंडीशनर का प्रयोग : लोग अक्सर शैंपू करने के बाद कंडीशनर को सीधे स्कैल्प पर लगाते हैं, जबकि ऐसा नहीं करना चाहिए। कंडीशनर को हमेशा बालों के ऊपर ही लगाना चाहिए। फिर दो मिनट तक इसे रखने के बाद पानी से इसे धो लेना चाहिए।
  • बालों को रोज धोने से बचें : कई लोग बालों की सफाई और स्वास्थ्य के लिए उसे रोजाना धोने की सोचते हैं, लेकिन बालों को अगर रोजाना वॉश किया जाए, तो इससे स्कैल्प से नेचुरल ऑयल खत्म हो सकते हैं। साथ ही बालों की नमी भी खो सकती है। इस कारण बाल कमजोर होकर टूट भी सकते हैं।
  • हेयर ड्रायर की जगह ऐसे सुखाएं बाल : शैम्पू के बाद बालों को तौलिए से रगड़कर या हेयर ड्रायर से सुखाने के बजाए हल्के-हल्के हाथों से सुखाएं। हेयर ड्रायर का इस्तेमाल बालों को जड़ों से कमजोर कर सकते हैं। अगर करना भी है, तो हेयर ड्रायर को कूलिंग सेटिंग पर रखें। बालों को सुखाने के लिए माइक्रोफाइबर वाले तौलिये का भी प्रयोग किया जा सकता है। यह बेहद मुलायम होता है। साथ ही अन्य तौलियों के मुकाबले यह बालों में कम घर्षण पैदा करता है, जिससे बाद दो मुंहें होने से बच सकते हैं।
  • घर से बाहर निकलते समय बालों को ढकें : बालों के विकास के लिए उन्हें सूरज की हानिकारक किरणों से भी बचाना जरूरी है। इसलिए, घर से निकलते वक्त हमेशा बालों को कैप या सूती कपड़े से ढकने की कोशिश करें।
  • बालों में कंघी : जब बाल गीले हों, तो कंघी का इस्तेमाल न करें। इससे बाल जड़ों से कमजोर होकर टूट सकते हैं। साथ ही मोटे व खुले दांतों वाली कंघी का इस्तेमाल करें। इसके अलावा, दिन में कम से कम दो बार बालों में कंघी जरूर करें, ताकि बाल आपस में न उलझें और स्कैल्प का प्राकृतिक तेल पूरे बालों में फैल जाए।

इस लेख को पढ़ने के बाद यह तो पता चल गया होगा कि हेयर केयर टिप्स एट होम उतना मुश्किल नहीं है, जितना हम सोचते हैं। इसके लिए हमें बस अपनी व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय निकालना होगा। यकीन मानिए, इस लेख में दिए गए बालों की देखभाल के तरीकों से बालों को जरूर फायदा मिल सकता। हालांकि, इसके साथ ही बालों के स्वास्थ्य से संबंधित आहार का सेवन भी जरूरी है, तभी बालों को भरपूर पोषण मिल सकेगा। उम्मीद है कि यह लेख आपको पसंद आया होगा।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

बालों की देखभाल के लिए एक अच्छी दिनचर्या क्या है?

बालों की देखभाल के लिए कोई सटीक दिनचर्या नहीं है। बस समय-समय पर ऑलिंग और शैम्पू कर सकते हैं। साथ ही संतुलित डाइट लें, इससे बाले सही रह सकते हैं।

मुझे अच्छे बाल कैसे मिल सकते हैं?

अगर आप बालों का ध्यान रखते हैं और जरूरी पोषण देते हैं, तो आपके बाल अच्छे हो सकते हैं।

अपने बालों को कैसे स्वस्थ रख सकते हैं?

अपने बालों को स्वस्थ रखने के लिए लेख में बताए गए हेयर केयर टिप्स एट होम अपना सकते हैं।

क्या हर बार बालों को धोने के बाद उसमें कंडिशनर लगाना चाहिए?

कंडिशनर का उपयोग बालों की आवश्यकतानुसार करना चाहिए। अगर बालों को कंडिशनर की आवश्यकता है, तो बालों को धोने के बाद उसमें कंडिशनर जरूर लगाना चाहिए (34)।

हमें रात में बाल क्यों नहीं धोने चाहिए?

रात में बाल धोने से सर्दी-खांसी की समस्या हो सकती है, इसलिए रात में बाल नहीं धोने की सलाह दी जाती है।

बाल धोना कब बेहतर है, रात या सुबह में?

दिन के समय बाल धोना बेहतर माना जा सकता है।

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. Ethnopharmacological survey of home remedies used for treatment of hair and scalp and their methods of preparation in the West Bank-Palestine
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5499037/
  2. Virgin Coconut Oil infused healthy cosmetics
    https://www.researchgate.net/publication/336232293_Virgin_Coconut_Oil_infused_healthy_cosmetics
  3. Fatty acid composition and anticancer activity in colon carcinoma cell lines of Prunus dulcis seed oil
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6130748/#:~:text=Analysis%20of%20almond%20oils&text=Almond%20oil%20from%20TR%20(DD,and%20palmitoleic%20acid%20(0.6%25).
  4. Fatty Acid supplements improve hair coat condition in rhesus macaques
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5597456/#:~:text=We%20examined%20the%20efficacy%20of,dermatitis%20%5B8%5D%20in%20rodents.
  5. The Golden Egg: Nutritional Value, Bioactivities, and Emerging Benefits for Human Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6470839/
  6. The Role of Vitamins and Minerals in Hair Loss: A Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6380979/
  7. Shampoo and Conditioners: What a Dermatologist Should Know?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4458934/
  8. Enhancement of antioxidant and skin moisturizing effects of olive oil by incorporation into microemulsions
    https://www.researchgate.net/publication/309026048_Enhancement_of_antioxidant_and_skin_moisturizing_effects_of_olive_oil_by_incorporation_into_microemulsions
  9. Lecithin As Phosphatidylcholine Emulsifier Of Mayonnaise In Treatment For Hair
    https://www.wjpps.com/wjpps_controller/abstract_id/3448
  10. Development and efficacy evaluation of hair care formulations containing vegetable oils and silicone
    https://www.researchgate.net/publication/332582347_Development_and_efficacy_evaluation_of_hair_care_formulations_containing_vegetable_oils_and_silicone
  11. Medicinal and cosmetic uses of Bee’s Honey – A review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3611628/
  12. Comparison of antifungal activity of plant extracts and shampoos against dandruff causing organism Malassezia Species
    https://www.ijariit.com/manuscripts/v5i3/V5I3-1580.pdf
  13. Nutritional And Pharmaceutical Benefits Of Avocado Plant
    https://www.researchgate.net/publication/329388661_NUTRITIONAL_AND_PHARMCEUTICAL_BENIFITS_OF_AVOCADO_PLANT
  14. Curd: A Sedative With A Bonus Bowl Of Useful Side Effects
    https://irjponline.com/admin/php/uploads/2118_pdf.pdf
  15. Beer as a potential source of macroelements in a diet: the analysis of calcium, chlorine, potassium, and phosphorus content in a popular low-alcoholic drink
    https://link.springer.com/article/10.1007/s00217-018-3098-0
  16. Nutrition of women with hair loss problem during the period of menopause
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4828511/
  17. Review on Hair Problem and its Solution
    https://www.researchgate.net/publication/342174156_Review_on_Hair_Problem_and_its_Solution
  18. Aloe vera : A Potential Herb and its Medicinal Importance
    https://www.researchgate.net/publication/328630465_Aloe_vera_A_Potential_Herb_and_its_Medicinal_Importance
  19. Onion juice (Allium cepa L.), a new topical treatment for alopecia areata
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/12126069/
  20. Review on Antifungal Possibility of Locally Processed Brown Sugar With Comparative Physicochemical Selections of Honey As Standard Against Candida Albicans
    https://www.researchgate.net/publication/342610878_Review_on_Antifungal_Possibility_of_Locally_Processed_Brown_Sugar_With_Comparative_Physicochemical_Selections_of_Honey_As_Standard_Against_Candida_Albicans
  21. Identification of the Plants Use as Natural Herbal Shampoo in Manipur
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC395725
  22. Human skin condition and its associations with nutrient concentrations in serum and die
    https://academic.oup.com/ajcn/article/77/2/348/4689673
  23. Vitamin A
    https://ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminA-HealthProfessional/#en11
  24. The clinical effects of zinc as a topical or oral agent on the clinical response and pathophysiologic mechanisms of acne: a systematic review of the literature
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23652948/#:~:text=The%20preponderance%20of%20evidence%20suggests,it%20may%20decrease%20sebum%20production
  25. Nutritional advantages of oats and opportunities for its processing as value added foods – a review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4325078/
  26. Nutrition of women with hair loss problem during the period of menopause
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4828511/
  27. The Role of Vitamins and Minerals in Hair Loss: A Review
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6380979/
  28. A Review of Mushrooms as a Potential Source of Dietary Vitamin D
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC6213178/#:~:text=Fresh%20Mushrooms%20Exposed%20to%20Sunlight,many%20countries%20(Table%201)
  29. Effect of a nutritional supplement on hair loss in women
    http://math.armstrong.edu/faculty/schreiber/stat/cases/Effect%20of%20a%20nutritional%20supplement%20on%20hair%20loss%20in%20women.pd
  30. Omega-3 fatty acids
    https://medlineplus.gov/ency/imagepages/19302.htm#:~:text=These%20different%20types%20of%20fatty,seeds%2C%20and%20certain%20vegetable%20oils
  31. Biotin Deficiency
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK547751/
  32. Standardized Scalp Massage Results in Increased Hair Thickness by Inducing Stretching Forces to Dermal Papilla Cells in the Subcutaneous Tissue
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4740347/
  33. Understanding Hair Loss due to Air Pollution and the Approach to Management
    https://www.researchgate.net/publication/295859437_Understanding_Hair_Loss_due_to_Air_Pollution_and_the_Approach_to_Management
  34. Shampoo and Conditioners: What a Dermatologist Should Know?
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4458934/

और पढ़े:

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Dr. Suvina Attavar
Dr. Suvina Attavar - I have a thirst for learning and a passion for Dermatology, Cosmetology and hair transplantation. I am well versed with lasers, chemical peels, and other minor dermatologic procedures. I have been doing hair transplants since 2018.

Read full bio of Dr. Suvina Attavar