Written by , (शिक्षा- एमए इन जर्नलिज्म मीडिया कम्युनिकेशन)

जड़ी-बूटियों की अगर बात की जाए, तो भारत इस मामले में एक धनी देश है। शारीरिक परेशानियों के लिए आयुर्वेद में कई खास जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल सदियों से किया जा रहा है। अब जब जड़ी-बूटियों की बात चल ही रही है, तो इसमें एक खास नाम अडूसा का भी शामिल किया जा सकता है। कुछ लोग होंगे जिन्हें इसके बारे में पता होगा, वहीं कुछ लोग ऐसे भी होंगे जिन्होंने पहली बार यह नाम सुना होगा। यही वजह है कि स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम अडूसा के बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं। स्वास्थ्य के लिए अडूसा के फायदे क्या-क्या हो सकते हैं और अडूसा का उपयोग कैसे किया जा सकता है, इन्हीं सब सवालों के जवाब मिलेंगे इस लेख में। अडूसा के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी के लिए जुड़े रहिये इस आर्टिकल से।

लेख विस्तार से पढ़ें

सबसे पहले जानते हैं कि अडूसा आखिर क्या है। 

अडूसा क्या है – What is Vasaka in Hindi

अडूसा के नाम से कई लोगों को लग रहा होगा कि यह आड़ू से संबंधित कुछ होगा। लेकिन, ऐसा नहीं है, अडूसा एक औषधीय पौधा है, जिसे वसाका और मालाबार नट कहते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम जस्टिसिआ अधाटोड़ा (Justicia adhatoda) है। वसाका के फूल, पत्तियों और जड़ों का उपयोग कई तरह की बीमारियों से बचाव के लिए किया जा सकता है (1)। जिसके बारे में हम लेख में आगे विस्तार से जानकारी देंगे।

आगे पढ़ें

आगे जानते हैं कि अडूसा में ऐसे कौन से गुण हैं, जो इसे इतना लाभकारी बनाते हैं। 

अडूसा के औषधीय गुण

अडूसा के औषधीय गुण की बात करें, तो इसमें एंटी-एलर्जिक, एंटीऑक्सीडेंट (फ्री रेडिकल्स दूर करने वाला), एंटी-इंफ्लेमेटरी (सूजन कम करने वाला), एंटी-डायबिटिक, एंटी-अल्सर और ऐसे ही कई अन्य गुण मौजूद हैं। इसमें कई प्रमुख घटक भी हैं जैसे – क्विनाजोलिन एल्कलॉइड और वासिसीन ।

पढ़ते रहें

अब जानते हैं कि इस अडूसा के फायदे क्या-क्या हो सकते हैं। 

अडूसा के फायदे – Benefits of Vasaka (Malabar Nut) in Hindi

यहां हम अडूसा के लाभ को लेकर जानकारी दे रहे हैं। वहीं, अडूसा को किसी बीमारी का इलाज समझने की भूल न करें। यह बीमारी से बचाव या उसके लक्षणों को कुछ हद कम करने में मददगार हो सकता है। अगर कोई किसी गंभीर समस्या से ग्रस्त है, तो उसका डॉक्टरी उपचार करवाना जरूरी है।

1. मधुमेह के लिए अडूसा के फायदे

मधुमेह की समस्या किसी को भी हो सकती है। ऐसे में मधुमेह से बचाव के लिए या डायबिटीज में डाइट का खास ध्यान रखना जरूरी है। मधुमेह की बीमारी से बचाव के लिए अडूसा एक उपयोगी औषधि की तरह काम कर सकता है। दरअसल, अडूसा में एंटी-डायबिटिक गुण मौजूद होते हैं, जो रक्त शर्करा को कम कर डायबिटीज की परेशानी में लाभदायक हो सकते हैं (2)। हालांकि, अगर इसका अधिक उपयोग किया जाए, तो यह ब्लड शुगर को बहुत कम भी कर सकता है। ऐसे में इसकी मात्रा को लेकर डॉक्टरी सलाह जरूर लें।

2. सूजन के लिए अडूसा के लाभ

अडूसा के लाभ की बाद करें, तो यह सूजन की समस्या के लिए भी लाभकारी हो सकता है। दरअसल, अडूसा पर किये गए रिसर्च में यह बात सामने आई है कि अडूसा में मौजूद वासिसीन (अडूसा का मुख्य एल्कलॉइड) में एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होता है । ऐसे में कहा जा सकता है कि यह सूजन के कारण होने वाली समस्याओं से बचाव करने में सहायक हो सकता है।

3. सर्दी-जुकाम के लिए अडूसा के फायदे

अडूसा के फायदे की अगर बात की जाए, तो यह सर्दी-जुकाम के लिए भी लाभकारी हो सकता है। दरअसल, एक शोध में यह बात सामने आयी है कि अडूसा में एंटी-एलर्जिक गुण मौजूद होते हैं। साथ ही इसमें कोल्ड को दूर करने वाले और एंटीट्यूसिव (कफ से बचाव) गुण भी मौजूद होते हैं, जो सर्दीजुकाम से बचाव में सहायक हो सकते हैं। इतना ही नहीं यह अस्थमा और ब्रोंकाइटिस जैसी सांस संबंधी समस्याओं से बचाव में भी सहायक हो सकता है ।

जारी रखें पढ़ना

4. अल्सर के लिए अडूसा के फायदे

पेट में अल्सर की समस्या किसी को भी कभी भी हो सकती है। बैक्टीरिया, तनाव, शराब का सेवन, मसालेदार खाना या अन्य कई कारणों से यह समस्या हो सकती है (3)। ऐसे में इससे बचाव के लिए अडूसा फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, एनसीबीआई (National Center for Biotechnology Information) की वेबसाइट पर इस विषय से जुड़ा एक शोध उपलब्ध है। शोध के अनुसार, अडूसा के पत्तों में एंटीअल्सर गतिविधि पाई जाती है (1)। ऐसे में डॉक्टरी सलाह के अनुसार अल्सर से बचाव के लिए अडूसा का उपयोग किया जा सकता है।

5. लिवर के लिए अडूसा के फायदे

शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए शरीर के हर अंग का सही काम करना आवश्यक है। इन्हीं जरूरी अंगों में लिवर भी शामिल है। लिवर को स्वस्थ रखने के लिए भी अडूसा का सेवन किया जा सकता है। दरअसल, एक स्टडी के अनुसार अडूसा में मौजूद मुख्य घटक इथाइल एसीटेट में हेपाटोप्रोटेक्टिव (लिवर को नुकसान से बचाने वाला) गतिविधि की पुष्टि हुई है (4)। ऐसे में लिवर को स्वस्थ रखने के लिए व्यक्ति अडूसा का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

स्क्रॉल करें

6. एंटीऑक्सीडेंट गुण के लिए अडूसा का उपयोग

एंटीऑक्सीडेंट युक्त खाद्य-पदार्थ मानव शरीर को कई तरह की बीमारियों से बचाने का काम कर सकते हैं। एंटीऑक्सीडेंट शरीर की कोशिकाओं से मुक्त कणों को निकाल ऑक्सीकरण के कारण होने वाले नुकसान से बचाव कर सकता है (5)। ऐसे में एंटीऑक्सीडेंट के लिए व्यक्ति अपने रूटीन में अडूसा का उपयोग कर सकते हैं। दरअसल, अडूसा में एंटीऑक्सीडेंट गुण मौजूद होता है। इस गुण का कारण अडूसा में पाए जाने वाले फेनोलिक यौगिक और फ्लेवोनॉयड्स को माना गया है ।

7. त्वचा के लिए अडूसा के फायदे

अडूसा के लाभ के बारे में अगर बात की जाए, तो यह त्वचा के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। त्वचा संबंधी समस्याओं में अडूसा के पत्ते के फायदे हो सकते हैं। अडूसा की पत्तियों का लेप घाव के लिए प्रभावकारी हो सकता है। वहीं, अडूसा की पत्तियों का काढ़ा स्केबीज (त्वचा संबंधी संक्रामक रोग) और अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए लाभकारी हो सकता है (6)। हालांकि, इसका असर त्वचा रोग की गंभीरता पर भी निर्भर कर सकता है। अगर समस्या ज्यादा है, तो बेहतर है कि डॉक्टरी सलाह ली जाए।

जुड़े रहिये

इतने सारे फायदे जानने के बाद अब जानिए अडूसा का इस्‍तेमाल कैसे किया जा सकता है।

अडूसा का सेवन कैसे करें – How to Eat Malabar Nut in Hindi

अडूसा का सेवन नीचे बताए गए तरीकों से किया जा सकता है :

  • अडूसा के चूर्ण का सेवन कर सकते हैं।
  • अडूसा के रस का सेवन कर सकते हैं।
  • अडूसा के पत्ते के फायदे हो सकते हैं। ऐसे में, अडूसा के पत्तों के रस का भी सेवन किया जा सकता है।
  • बाजार में अडूसा का टॉनिक भी उपलब्ध है, अडूसा के टॉनिक का सेवन भी कर सकते हैं।
  • अडूसा की पत्तियों के लेप का उपयोग जोड़ों के दर्द के लिए कर सकते हैं।

नोट : अडूसा का सेवन कितनी मात्रा में करना चाहिए, यह व्यक्ति की उम्र और शारीरिक स्थिति पर निर्भर करता है। ऐसे में बेहतर इस बारे में विशेषज्ञ की सलाह ली जाए।

आगे पढ़ें

अब बात करते हैं कुछ सावधानियों के बारे में। 

अडूसा लेने से पहले सावधानियां

अडूसा का उपयोग करने से पहले सावधानी के तौर पर नीचे बताई गई बातों पर ध्यान दें :

  • अगर किसी को फूड एलर्जी है, तो इसके सेवन से परहेज करें।
  • अडूसा कितनी मात्रा में लेना है, यह व्यक्ति की उम्र और शारीरिक स्थिति पर निर्भर करता है। ऐसे में बेहतर है व्यक्ति अडूसा के सेवन से पहले डॉक्टरी सलाह जरूर लें।
  • अगर किसी को लो ब्लड शुगर की समस्या है, तो वो अडूसा से परहेज करें।

अंत तक पढ़ें

अब बारी आती है अडूसा के नुकसान के बारे में जानने की। 

अडूसा के नुकसान – Side Effects of Adusa in Hindi

अगर बात करें अडूसा के नुकसान की, तो इस बारे में कोई शोध उपलब्ध नहीं है। हम यहां सावधानी के तौर पर कुछ सामान्य नुकसान की जानकारी दे रहे हैं। ये नुकसान अनुमान के आधार पर हैं ताकि लोग ध्यान से इसका सेवन करें।

  • अडूसा का सेवन बच्चों को न कराएं।
  • माना जाता है कि अडूसा के अधिक सेवन से मतली या उल्टी की समस्या हो सकती है।
  • गर्भावस्था में अडूसा के सेवन से गर्भपात जैसी समस्या नहीं पायी गई है (7)। हालांकि, इस बात की पुष्टि जानवरों में की गई है। ऐसे में, बेहतर है कि गर्भवती और स्तनपान कराने वाली माताएं इसके सेवन से पहले डॉक्टरी सलाह जरूर लें।

तो ये थे अडूसा के फायदे। आशा करते हैं कि अब इस गुणकारी जड़ी-बूटी के बारे में कई लोगों को पता चल गया होगा। यहां बताए गए तरीके से अगर अडूसा का इस्‍तेमाल किया जाए, तो अडूसा के लाभ हो सकते हैं। हालांकि, सावधानी के तौर पर अडूसा का उपयोग पूरी जानकारी और सही मात्रा में किया जाए, वरना अडूसा के नुकसान भी सामने आ सकते हैं। उम्मीद करते हैं कि अडूसा के फायदे से जुड़ा यह लेख आपको पसंद आया होगा। आप चाहें, तो इसे अन्य लोगों के साथ भी साझा कर सकते हैं।

References

Articles on thebridalbox are backed by verified information from peer-reviewed and academic research papers, reputed organizations, research institutions, and medical associations to ensure accuracy and relevance. Read our editorial policy to learn more.

  1. In vitro biotechnological advancements in Malabar nut (Adhatoda vasica Nees): Achievements, status and prospects
    https://www.sciencedirect.com/science/article/pii/S1687157X18300258
  2. Growth Inhibitory Effects of Adhatoda vasica and Its Potential at Reducing Listeria monocytogenes in Chicken Meat
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5511825/
  3. Peptic Ulcer
    https://medlineplus.gov/ency/article/000206.htm
  4. A complete over review on Adhatoda vasica a traditional medicinal plants
    http://www.plantsjournal.com/archives/2017/vol5issue1/PartC/5-1-29-276.pdf
  5. Antioxidants
    https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/antioxidants#:~:text=A%20diet%20high%20in%20antioxidants,be%20studied%20around%20the%20world.
  6. Indian traditional herbs Adhatoda vasica and its Medicinal application
    https://www.jocpr.com/articles/indian-traditional-herbs-adhatoda-vasica-and-its-medicinal-application.pdf
  7. Non-abortive effect of Adhatoda vasica spissum leaf extract by oral administration in rats
    https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/23195403/
Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
Puja Kumari
Puja Kumariहेल्थ एंड वेलनेस राइटर
.

Read full bio of Puja Kumari